1. हिन्दी समाचार
  2. विदेश
  3. अफगानिस्तान : पंजशीर में तालिबान और नॉर्दन एलायंस के बीच बातचीत शुरू, सीजफायर पर बनी सहमती

अफगानिस्तान : पंजशीर में तालिबान और नॉर्दन एलायंस के बीच बातचीत शुरू, सीजफायर पर बनी सहमती

अफगानिस्तान के कई हिस्सों पर कब्जा जमा चुका तालिबान इसके पूरे हिस्सों को अपने कब्जे में लेने की कोशिश कर रहा है। इसे लेकर तालिबानी लड़ाके लगातार पंजशीर पर हमला कर रहे थे, जिसमें उन्हें कई बार मुंह की खानी पड़ी। हालांकि अब अफगानिस्तान के पंजशीर तालिबान और नॉर्दर्न एलायंस के बीच एक बार फिर बातचीत शुरू हो गई है।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : अफगानिस्तान के कई हिस्सों पर कब्जा जमा चुका तालिबान इसके पूरे हिस्सों को अपने कब्जे में लेने की कोशिश कर रहा है। इसे लेकर तालिबानी लड़ाके लगातार पंजशीर पर हमला कर रहे थे, जिसमें उन्हें कई बार मुंह की खानी पड़ी। हालांकि अब अफगानिस्तान के पंजशीर तालिबान और नॉर्दर्न एलायंस के बीच एक बार फिर बातचीत शुरू हो गई है।

खबरों की मानें तो तालिबान और पंजशीर के बीच सीज़फायर को लेकर समझौता हो गया है। जानकारी के मुताबिक, अहमद मसूद की अगुवाई में नॉर्दर्न एलायंस और तालिबान के बीच परवान में बातचीत शुरू हो गई है। तालिबान की ओर से बातचीत की अगुवाई मौलाना अमीर खान मुक्तई कर रहा है। तालिबान की ओर से इस बातचीत को ‘अमन जिरगा’ नाम दिया गया है। ये बैठक परवान जिले के चारिकर इलाके में हो रही है।

पंजशीर को लेकर तालीबान ने कहा कि दोनों ही तरफ से सीज़फायर पर सहमति बन गई है। पंजशीर में दोनों तरफ के लड़ाके अभी किसी पर गोलीबारी नहीं करेंगे और ना ही किसी तरह का तनाव पैदा किया जाएगा।

पंजशीर को नहीं जीत सका था तालिबान

आपको बता दें कि बीते दिनों तालिबान और नॉर्दर्न एलायंस के लड़ाकों के बीच पंजशीर की सीमाओं पर गोलीबारी की खबरें सामने आई थीं, जहां करीब 300 तालिबानियों के मारे जाने की बात कही गई थी। तालिबान लगातार पंजशीर पर कब्जे की कोशिश में है, लेकिन नॉर्दर्न एलायंस ऐसा ना करने पर अड़े हैं।

आपको बता दें कि इस वक्त अहमद शाह मसूद के बेटे अहमद मसूद नॉर्दर्न एलायंस की अगुवाई कर रहे हैं। जबकि अफगानिस्तान के कार्यकारी राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह भी इसी इलाके में रुके हुए हैं। सभी की ओर से बातचीत की पेशकश की गई थी, लेकिन ये भी कहा गया था कि अगर तालिबान जंग चाहेगा तो जंग भी लड़ी जाएगी।

साथ ही दोनों ओर साझा सरकार चलाने को लेकर भी बात कर रहे हैं। नॉर्दर्न एलायंस की ओर से कुछ शर्तें रखी गई हैं, जिसपर तालिबान को फैसला लेना है। वहीं तालिबान भी पंजशीर के मसले को जल्द सुलझाने का दावा कर रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...