Home Madhya Pradesh 23 साल की नौकरी में मिली 36 लाख सैलरी, छापेमारी में मिले इतने करोड़ कि अधिकारियों के उड़े होश

23 साल की नौकरी में मिली 36 लाख सैलरी, छापेमारी में मिले इतने करोड़ कि अधिकारियों के उड़े होश

0 second read
0
60

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

भोपाल: मध्य प्रदेश से अपराध की एक ऐसी खबर सामने आ रही है,जिसे जानकर आप भी चौंक जायेंगे। एक प्राइमरी टीचर के पास से इतनी संपत्ति मिली है, कि पूरे कार्यकाल में उसको इतना वेतन भी नहीं मिला है। मंगलवार को लोकयुक्त की टीम ने बैतूल जिले में एक प्राइमरी स्कूल टीचर के घर छापेमारी की। इस दौरान उसके 24 से ज्यादा संपत्तियों का खुलासा हुआ है। लोकायुक्त की टीम ने 11 घंटे तक कार्रवाई की जिसके बाद शिक्षक, उसकी पत्नी और पिता पर भ्रष्टाचार अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

आपको बता दें कि बैतूल के बगडोना के आलीशान मकान में रहने वाले पंकज श्रीवास्तव रेंगाढाना गांव में स्थित सरकारी स्कूल में प्राइमरी टीचर हैं। इनकी नियुक्ति 1998 में हुई थी। इनके खिलाफ लोकायुक्त में शिकायत की गई थी। इस शिकायत में कहा गया था कि पंकज ने आय से अधिक संपत्ति एकत्रित की है। इसके साथ ही शिकायत में बताया गया था कि सरकारी नौकरी के साथ ही पंकज साहूकारी का काम करता है। जो लोग कर्ज लेकर नहीं चुकाते थे उनकी संपत्ति यह हड़प कर लेता है।

एक व्यक्ति की शिकायत पर लोकायुक्त की टीम ने इन आरोपो की ज़ॉच की, शिकायत सही मिलने के बाद मंगलवार को लोकायुक्त की टीम ने सुबह ही शिक्षक के घर पर दबिश डाली। टीम ने जब छापेमारी की तो शिक्षक के घर से 25 संपत्तियों के डॉकूमेंट्स मिले। इसके साथ ही टीचर के घर से एक लाख रुपये नगद भी बरामद हुए हैं।

आपको बता दें कि आरोपी शिक्षक के घर से 25 संपत्तियों में भोपाल में मिनाल रेजीडेंसी में डुप्लेक्स, समरधा में प्लॉट, पिपलिया में एक एकड़ भूमि, छिंदवाड़ा में 06 एकड़ भूमि, बैतूल में 08 आवासीय प्लॉट, 06 दुकान बगडोना में 10 अलग-अलग ग्रामों में कृषि भूमि कुल 25 एकड़ होना पाया गया है। इनकी कुल कीमत लगभग 05 करोड़ रुपये के आसपास आंकी गई है। जिसके बाद सभी के होश उड़ गये हैं।

Load More In Madhya Pradesh
Comments are closed.