Home Breaking News पीठ पर भारी पत्थर बांधकर उसे भागने को कहा गया, वह चल नहीं पाया तो उसे और पीटा गया…

पीठ पर भारी पत्थर बांधकर उसे भागने को कहा गया, वह चल नहीं पाया तो उसे और पीटा गया…

2 second read
0
55

नई दिल्ली : पीठ पर भारी पत्थर बांधकर उसे भागने को कहा गया, वह चल नहीं पाया तो उसे और पीटा गया। अधमरी हालत में बच्चे को फेंक दिया गया। घटना के छह दिन तक बच्चा जिंदगी और मौत के बीच झूलता रहा और आखिर उसकी मौत हो गई। यह घटना है बेंगलुरु से लगभग 360 किलोमीटर दूर हावेरी जिले के हंगल तालुक में उप्पनसी गांव का। जहां 10 साल का बच्चा हरिशय हिरेमथ 16 मार्च को किराने की दुकान पर गया था। वह करीब दो घंटे तक घर नहीं लौटा। और अंत में मिली अधमरी लाश।

हरिशय के पिता नागय्या ने बताया कि जब वे दुकान पर पहुंचे तो देखा कि उनका बेटा दुकानदार के पास बंधक है। उसके शरीर पर गंभीर चोटें थीं। वह अधमरी हालत में था। दुकानदार ने आरोप लगाया कि हरिशय ने उसकी दुकान से रुपये चुराए।

लड़के के माता-पिता ने जब बेटे को छोड़ने के लिए कहा कि दुकानदार ने उन्हें धक्का दे दिया। शाम को दुकानदार ने लड़के को अधमरी हालत में फेंक दिया। माता-पिता अपने घायल बेटे को हावेरी अस्पताल ले गए और उसे 19 मार्च को हुबली के KIMS में स्थानांतरित कर दिया। लड़के ने 22 मार्च को अंतिम सांस ली।

आपको बता दें कि मरने से पहले बच्चे ने एक वीडियो बनाया जो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। ट्रॉमा में बच्चा अपने साथ हुई उस दिन की घटना बयां कर रहा है जिसे सुनकर रूंह कांप जाती है। वह कहता है कि उसे धक्का दिया गया, एक साथ कई लोगों ने उसे पीटा। उसे एक कमरे के अंदर बंद करके घसीट-घसीटकर पीटा गया।

वह कहता है, ‘मेरी पीठ पर भारी पत्थर बांधकर चलने के लिए कहा गया। मैं नहीं चल पा रहा था तो मुझे और पीट रहे थे। वह रोकर कहता है, ‘वे मुझे मारने की कोशिश कर रहे हैं।’

आपको बता दें कि अस्पताल के बिस्तर से लड़के द्वारा किए गए वीडियो बयान और 17 मार्च को आदुर पुलिस स्टेशन में लड़के के पिता नागय्या की ओर से दर्ज की गई शिकायत के आधार पर, जिला पुलिस ने दुकान मालिकों प्रवीण करिशेकर, उनकी मां बसवननेवा करिशेत्तर, चाचा कुमार हावेरी और नाना शिवरुद्रप्पा हावेरी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल चारों आरोपी फरार हैं।

पुलिस ने बताया कि बच्चे की मौत के कारण का पता लगाने के लिए पुलिस पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। हावेरी जिले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मल्लिकार्जुन बालाडंडी ने घटना की त्वरित जांच का वादा किया और कहा कि पोस्टमॉर्टम के निष्कर्षों के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

Load More In Breaking News
Comments are closed.