Home उत्तर प्रदेश योगी सरकार ने जारी किया ऑकड़ा, चार साल में UP पुलिस के हाथों मारे गये इतने अपराधी

योगी सरकार ने जारी किया ऑकड़ा, चार साल में UP पुलिस के हाथों मारे गये इतने अपराधी

2 second read
0
17

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने सरकार बनने के बाद सूबे के आपराधियों को चेतावनी दे दी थी कि या तो वे अपराध छोड़ दें, याफिर वे प्रदेश छोड़ दें। योगी सरकार के चार साल पूरा होने के बाद सरकार ने मुठभेड़ में मारे गये अपराधियों की लिस्ट जारी कर दी है। सरकार ने आंकड़ा दिया है कि चार साल के कार्यकाल में 135 अपराधियों की मौत हुई है। सरकार द्वारा जारी यह ऑकड़ा 23 मार्च 2017 से 15 मार्च 2021 तक का है।

आपको बता दें कि सबसे ज्यादा अपराधी साल 2018 में मारे गये थे। इस साल मुठभेड़ में 41 अपनाधियों की मृत्यु हुई थी। गृह विभाग द्वारा जारी ऑकड़े को देखें तो साल 2017 में 28, साल 2019 में 29, साल 2020 में 26 पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई में आत्मरक्षा में चलाई गई गोली से मारे गये हैं।

पुविस द्वारा आत्मरक्षा में चलाई गई गोली से मारे गये अपराधियों में पांच लाख का एक अपाराधी, 2.5 लाख के इनामी तीन, दो लाख के इनामी दो, 1.5 लाख के इनामी तीन, एक लाख के इनामी 18, 75 हजार का इनामी एक, 62 हजार का इनामी एक, 50 हजार के इनामी 46, 25 हजार के इनामी 20, 15 हजार के इनामी 11, 12 हजार के इनामी चार, पांच हजार का एक तथा 24 अन्य अपराधी शामिल हैं।

वहीं जिले के अनुसार देखें तो सबसे ज्य़ादा पुलिस मुठभेड़ में मेरठ के 18 अपराधी मारे गये हैं। वहीं मुजफ्फरनगर में 13, सहारनपुर जिले में 10, अलीगढ़ जिले में नौ, आजमगढ़ जिले में आठ, गौतमबुद्धनगर (नोएडा) कमिश्नरेट व शामली जिले में छह-छह, बाराबंकी जिले में पांच तथा लखनऊ कमिश्नरेट, कानपुर नगर, गाजियाबाद व बागपत में चार-चार अपराधी मारे गए। बुलंदशहर, बरेली, प्रयागराज, वाराणसी व अमरोहा में तीन-तीन अपराधी मारे गए हैं।

वहीं 15 मार्च को ही AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने योगी सरकार पर एनकाउंटर को लेकर सवाल खड़े कर दिये थे। ओवैसी ने योगी सरकार को निशान साधते हुए कहा कि यूपी में जब से बीजेपी की सरकार बनीं है, तब से हुए एनकाउंटरों में सबसे ज्यादा मुस्लिम मारे गये हैं। ओवैसी ने ऑकड़ा देते हुए कहा था कि मारे गये अपराधियों में 37 प्रतिशत मुस्लिम हैं। वहीं उन्होने राज्य में आबादी की बात करते हुए कहा था कि राज्य में 18 से 19 फीसदी मुस्लिम हैं। उन्होने आगे कहा कि साल 2017 से 2020 के दौरान 6475 एनकाउंटर हुए हैं।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.