Home विचार पेज बॉलीवुड गैंग की सच्चाई : CAA पर झूठ फैलाते हुए पकड़े गये अनुराग कश्यप

बॉलीवुड गैंग की सच्चाई : CAA पर झूठ फैलाते हुए पकड़े गये अनुराग कश्यप

40 second read
1
544
why -anurag-kashyap-made-objectionable-remarks-on-pm-modi-regarding-the-citizenship-amendment-act

नागरिकता संशोधन कानून के पास होने के बाद से ही मीडिया का एक गिरोह और बेरोजगार बॉलीवुड गैंग ने देश में झूठ फैलाना शुरू कर दिया है, जिस CAA कानून से देश के लोगो का लेना देना भी नहीं है उसी कानून पर भोले भोले लोगो को भड़काने का काम इन लोगो के द्वारा किया जा रहा है।

इन लोगो को पाकिस्तान में प्रताड़ना के शिकार हिन्दुओ का दर्द नहीं दिखाई देता और ये वही लोग है जो रोहिंग्यान को देश में रहने की वकालत करते हुए नज़र आते है, हालांकि भारी विरोध के बाद भी कल केंद्र सरकार के आदेश से यह बिल आधिकारिक रूप से कानून बन गया है जिसके बाद बॉलीवुड गैंग देश में एक बार फिर लोगो को गुमराह करती हुई पकड़ी गयी है।

दरअसल फिल्ममेकर अनुराग कश्यप ने ट्वीट किया की आज CAA लागू हो गया, मोदी को बोलो पहले अपने कागज, अपनी डिग्री इन  “entire political science” दिखाए और अपने बाप का और खानदान का बर्थ सर्टिफ़िकेट दिखाए सारे हिंदुस्तान को। फिर हमसे मांगे।

अब यहां समझने वाली बात यह है की CAA यांनी की नागरिकता संसोधन कानून इस देश के लोगो पर नहीं बल्कि हमारे 3 पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आये सभी गैर मुस्लिम लोगो पर लागू होता है, इस कानून में किसी देशवासी से ना ही उसकी डिग्री मांगी जा रही है और ना ही जन्म प्रमाण पत्र तो आख़िरकार अनुराग कश्यप किसका एजेंडा चलाने के लिए झूठ फैला रहे है ?

अब दूसरी बात यह है की 130 करोड़ की आबादी वाले देश के चुने हुए PM के साथ तू तड़ाक जैसी भाषा का प्रयोग करना क्या उन्हें शोभा देता है ? अनुराग एक ज़िम्मेदार फिल्ममेकर है और कई अच्छी फिल्मे उन्होंने बनायी है, लाखो लोग उन्हें फॉलो करते है तो ऐसे में वो लोगो को क्या सीख दे रहे है ? क्या लोकतंत्र में चुने हुए PM से आप आदर सम्मान से बात नहीं करेंगे ?

वैसे उनके इस ट्वीट के बाद लोगो ने उन्हें जमकर लताड़ लगायी है और कइयों ने तो उन्हें खुद वापिस इतिहास पढ़ने की सलाह दे डाली है ! फिल्म मेकर अशोक पंडित ने लिखा की अरे बुडबक यह क़ानून काग़ज़ दिखाने का नहीं बल्कि काग़ज़ दिलाने का है ! इत्ति सी बात समझ में नहीं आती और फिर अपने आपको पढ़ा लिखा कहते हो ! किसी से #CAA के बारे में Tution ले लो !

लेकिन इन सबसे इतर जो सबसे बड़ा सवाल है वो यह है की क्या इस देश को हिंसा में धकेलने की एक सुनियोजित साजिश की जा रही है ? आखिर ऐसा क्यों है की इस देश के लोगो को भ्रम में डालकर देश का विकास बाधित करने का प्रयास किया जा रहा है !

JNU में हुई हिंसा में भी कुछ ऐसी ही चीज़े सामने आ रही है, 5 जनवरी को हुई हिंसा में भी अब आयशी घोष के साथ साथ लेफ्ट के कई लोगो के नाम आ रहे है वही दीपिका पादुकोण भी बिना सोचे समझे उन्ही के आंदोलन में साथ देने पहुंच गयी थी, और अब चुकी खुद आइशी घोष का नाम हिंसा करने वालो की लिस्ट में आ गया है तो क्या दीपिका अब माफ़ी मांगेगी ?

क्या फिल्म का प्रमोशन इतनी बड़ी चीज़ है की आप इसके लिए पुलिस जांच का भी इंतज़ार नहीं करेंगे ? क्या इस देश का कानून इतना कमजोर है की अब बॉलीवुड तय करेगा की सच क्या है और झूठ क्या ! ये चुनिंदा लोग है जो अपने स्वार्थ के लिये देश को जलाने से भी नहीं हिचकेंगे लेकिन आपको और मुझे इनके झूठ से सावधान रहना है।

Share Now
Load More In विचार पेज
Comments are closed.