Home उत्तर प्रदेश मारपीट के मामले में जबरन समझौता कराना पड़ा भारी, कप्‍तान ने दारोगा को किया लाइन हाजिर

मारपीट के मामले में जबरन समझौता कराना पड़ा भारी, कप्‍तान ने दारोगा को किया लाइन हाजिर

3 second read
0
7

महराजगंज के नए एसपी प्रदीप गुप्ता कार्यकाल के दूसरे दिन ही पूरे एक्शन मोड में दिखे। मारपीट के मामले में जबरन सुलह-समझौता कराने के आरोप में गुरुवार को मिठौरा चौकी इंचार्ज केके गुप्ता को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया। इस मामले में पीड़ित लड़की अपने परिजनों के साथ फरियाद लेकर एसपी के पास पहुंची थी। शिकायत सुनने के बाद एसपी ने यह कार्रवाई की।

मिठौरा थाना क्षेत्र के निवासी सत्य प्रकाश के साथ 15 तारीख को मारपीट हुई थी। आरोपित ने घर पर तोड़फोड़ भी की थी। परिजनों के साथ भी मारपीट हुई थी। आरोप है कि इस मामले में शिकायत करने पर मिठौरा चौकी इंचार्ज ने सुलह-समझौता करा दिया था। गुरुवार को सत्य प्रकाश अपनी बेटी व अन्य परिजनों के साथ फरियाद लेकर एसपी के पास पहुंचा था। प्रार्थना पत्र देकर पूरी बात बताई। एसपी ने मामले को गंभीरता से लेकर पूछताछ की। इसके बाद  मिठौरा चौकी इंचार्ज को लाइन हाजिर कर दिया।

सिपाहियों से चलवा दूंगा थाना : एसपी
एसपी प्रदीप गुप्ता ने बताया कि पुलिस का काम सुलह-समझौता कराना नहीं है। अगर कोई जबरन सुलह-समझौता कराया तो कार्रवाई होगी। पुलिस लाइन में ऐसे लोगों को बुलाकर सिपाहियों से थाना चलवा दिया जाएगा। थानेदार व दरोगा किसी मुगालते में ना रहें। अपनी ड्यूटी पूरी ईमानदारी व निष्ठा के साथ करें। ऐसे लोगों को पुरस्कृत किया जाएगा।

 

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.