1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Unlock Delhi 3: खुल गई दिल्ली… लेकिन इन 7 चीजों पर रहेगी पाबंदी, जानें क्या रहेगा बंद और क्या खुला

Unlock Delhi 3: खुल गई दिल्ली… लेकिन इन 7 चीजों पर रहेगी पाबंदी, जानें क्या रहेगा बंद और क्या खुला

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : कोरोना के लगातार कम होते ग्राफ के बीच दिल्ली में रियायत की तीसरी किश्त शुरू हो गई है। इस दौरान जहां रेस्टोरेंट, वीकली मार्केट, मॉल्स और दफ्तर खुलेंगे, वहीं कई चीजों पर पाबंदिया भी रहेगा। जिसे अगले चरणों में खोला जायेगा। हालांकि सीएम केजरीवाल ने कहा है इन रियायतों के दौरान भी वे अपनी पूरी नजर दिल्ली पर रखेंगे अगर इन छूटों के दौरान कोरोना केसों में बढ़ोतरी होती है तो फिर पहले जैसी स्थिति हो सकती है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज यानी सोमवार से बाजारों को पूरी तरह से खोल दिया जाएगा। केजरीवाल ने कहा कि, ‘हम बाजारों और रेस्तरां को फिर से खोलने के लिए दी गई छूट पर अगले सप्ताह नजर रखेंगे। अगर कोविड-19 के मामले नहीं बढ़ते हैं, तो हम छूट जारी रखेंगे, लेकिन अगर मामले बढ़ते हैं, तो हमें प्रतिबंध फिर से लागू करने होंगे।’

दिल्ली में किन-किन चीजों में मिली छूट :-

सभी मॉल दुकानें

साप्ताहिक बाजार

रेस्टोरेंट

निजी दफ्तर

पब्लिक ट्रांसपोर्ट

सैलून

ब्यूटी पार्लर

नाई की दुकानें और

धार्मिक स्थल खुलेंगे लेकिन उनमें श्रद्धालुओं को अनुमति नहीं होगी।

इन चीजों पर रहेगी पाबंदी :-

स्कूल-कॉलेज

कोचिंग सेंटर

सिनेमा हॉल, मल्टीप्लेक्स, थिएटर

योग संस्थान और सभागार

बैंक्वेट हॉल

सार्वजनिक उद्यान

जिम, स्पा और स्वीमिंग पूल को अभी खोले जाने की इजाजत नहीं है।

आवागमन पर रोक हटी

आदेश में कहा गया है कि व्यक्तियों एवं सामान के राज्यों के भीतर और अंतरराज्यीय आवागमन पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा, तथा इसके लिए अलग से अनुमति या ई-पास की आवश्यकता नहीं होगी।

बता दें कि बाजार दुकानें अनलॉक के पिछले चरण में ही खोल दिए गए थे, लेकिन शर्तें भी रखी गई थीं। दुकानों के लिए ऑड-ईवन जैसी व्यवस्था बनाई गई थी, लेकिन अब इसे भी खत्म कर दिया गया है।

यानी बाजार और मॉल में सारी दुकानें एक साथ खोली जा सकती हैं। दुकानें खोलने का वक्त सुबह 10 बजे से रात 8 बजे तक रखा गया है।

साप्ताहिक बाजार भी खोले जा सकते हैं, लेकिन पहले की तुलना में सिर्फ 50 फीसदी दुकानदार होंगे।

रेस्टोरेंट भी खोलने की इजाजत दे दी गई है लेकिन क्षमता के सिर्फ 50 फीसदी ग्राहकों की इजाजत होगी।

ऑटो-टैक्सी में भी 2 सवारियों की इजाजत होगी।

गौरतलब है कि दिल्ली में दी जा रही अतिरिक्त रियायतें ट्रायल बेसिस पर हैं यानी एक तरह का प्रयोग हैं। अगर इस दौरान कोरोना के मामले बढ़े तो दोबारा सख्ती बरती जा सकती है। इसे लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ये संदेश भी एकदम साफ कर दिया है। लिहाजा छूट का फायदा उठाने की बजाय इसका समझदारी से इस्तेमाल करने में ही भलाई है क्योंकि कोरोना जब सिर उठाता है तो सरकारें और उनके इंतजाम किस काम आते हैं ये दिल्ली समेत पूरा देश देख चुका है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads