Home उत्तर प्रदेश मेरठ के अनोखे इंस्पेक्टर साहब, पीड़ित की शिकायत पर हरिद्वार जाकर गायत्री मंत्र जपने की दी सलाह

मेरठ के अनोखे इंस्पेक्टर साहब, पीड़ित की शिकायत पर हरिद्वार जाकर गायत्री मंत्र जपने की दी सलाह

0 second read
0
13

रिपोर्ट: नंदनी तोदी
मेरठ: अक्सर अपने यूपी पुलिस को सक्रिय देखा होगा, जो कोई भी शिकायत आते ही करवाई करने लगती है। लेकिन मेरठ के एक इंस्पेक्टर साहब ऐसे है जो शिकायत आते ही अनोखे उपाय बताते हैं।

दरअसल, ये मामला मेरठ के एक पीड़ित का है जो अपनी दूसरी पत्नी और सौतेले बेटे की उत्पीड़न का शिकार है। और अब जब ये व्यक्ति थाने में शिकायत दर्ज करने पंहुचा तो थानेदार ने हरिद्वार जाकर रहने और रोजाना ब्रह्म मुहूर्त में गायत्री मंत्र का जाप करने की सलाह दे डाली।

ज्यादातर पुलिस अपराधियों को लाठियों से जवाब देती है, और पीड़ित को न्याय देती है। लेकिन मेरठ के आदर्श थाने में शुमार रहे नौचंदी थाने में ये इंस्पेक्टर गंगाजल, चंदन के टीके और गायत्री मंत्र से पीड़ित को न्याय दिलाते है। इस थाने में पीड़ित को चंदन का टीका और गंगाजल छिड़कने वाला इंस्पेक्टर प्रेमचंद शर्मा चर्चाओं में है। इतना ही नहीं थानेदार साहब ने अपने हाथ से लिख कर पीड़ित को ये सलाह दी है।

पीड़ित ने थानेदार की इस अजीब सलाह का 2 दिन पालन किया। हालाँकि उसकी पत्नी और बेटे ने उसे 3 बार पीट डाला।

जिसके बाद पीड़ित के वकील रामकुमार शर्मा ने आईजी कार्यालय में कहा कि अपने गायत्री मंत्र का जाप ठीक से नहीं किया होगा और इस बार दोनों पक्षों को बुलाकर सभी को हरिद्वार जाकर कुछ समय गुजारने का समझौता लिखवा लिया। वकील ने ये भी आरोप लगाया कि मेरठ पुलिस कानून के साथ मजाक कर रही है, अगर इस तरह पुलिसिंग की जाएगी तो फिर आईपीसी, सीआरपीसी और पुलिस मैनुअल का कोई मतलब नहीं रह जाता।

पीड़ित का मुकदमा दर्ज कर आईजी ने इंस्पेक्टर के खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.