Home mumbai Corona virus guideline: मुंबई में विदेशों से आए यात्रियों के लिए उद्धव सरकार का नया गाइडलाइन, जानिए क्या हैं नियम

Corona virus guideline: मुंबई में विदेशों से आए यात्रियों के लिए उद्धव सरकार का नया गाइडलाइन, जानिए क्या हैं नियम

2 second read
0
107

नई दिल्ली : मुंबई में लगातार बढ़ते कोरोना महामारी को लेकर महाराष्ट्र सरकार लगातार अलर्ट मोड पर है, जिसे लेकर वो हरसंभव कदम उठा रही है। आपको बता दें कि अब अपने इसी कदम को लेकर उद्धव सरकार ने विदेशों से मुंबई आने वाली यात्रियों को लेकर नया गाइडलाइन जारी किया है। इस नई गाइडलाइन के तहत इंग्लैंड, यूरोप, मध्य-पूर्व के देशों, दक्षिण अफ्रीका व ब्राजील से आने वाले यात्रियों को हर हाल में 7 दिन तक होटल में इंस्टिट्यूशनल क्वारंटीन रहना होगा।

इसके साथ ही बीएमसी होटल में ठहरने वाले विदेशी यात्रियों पर निगरानी रखेगी, की वो क्वारंटीन नियम का पालन कर रहें है या नहीं। आपको बता दें कि इसकी निगरानी के लिए सभी 24 वॉर्डों में एक टीम बनाई जाएगी। यह टीम होटलों में जाकर निगरानी करेगी और जांचेगी कि संबंधित व्यक्ति वहां है या नहीं। आपको बता दें कि यह कदम महाराष्ट्र सरकार द्वारा इसलिए उठाया गया है कि पिछले कुछ समयों में विदेश से आने वाला यात्री होटल से गायब है, जिसमें होटल मालिकों व बीएमसी कर्मचारियों की मिलीभगत सामने आई थी।

बीएमसी कमिश्नर आईएस चहल ने कहा कि कोरोना की रोकथाम ही हमारी पहली प्राथमिकता है, जिसे लेकर किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। विदेश से आने वालों पर कड़ी नजर रखी जा रही है, ताकि संक्रमण फैलने से रोका जा सके। नियम का उल्लंघन करते हुए कोई भी पाया गया, तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

जानिए क्या है नया गाइडलाइन

  • एयरपोर्ट पर तैनात कर्मचारी विदेश से आने वाले यात्रियों की सूची तैयार करेंगे। सभी 24 वॉर्डों की भी सूची तैयार की जाएगी, जिससे प्रत्येक वॉर्ड के होटल का इस्तेमाल किया जा सके।
  • एयरपोर्ट का तैनात कर्मचारी यात्रियों की सूची प्रतिदिन असिस्टेंट कमिश्नर व कार्यकारी स्वास्थ्य अधिकारी को ई-मेल द्वारा भेजेंगे।
  • कर्मचारी यात्रियों को होटल ले जाने के लिए बेस्ट बस की व्यवस्था करेंगे। साथ ही बस चालक को यात्रियों की लिस्ट देंगे।
  • बस चालक लोगों को होटल में छोड़ने के बाद होटल से यात्रियों के पहुंचने की रिसीव लेगा।
  • बस चालक वापस एयरपोर्ट आकर वह लिस्ट वहां तैनात कर्मचारियों को सौंपेगा।
  • एयरपोर्ट पर तैनात कर्मचारी यह सुनिश्चित करेंगे कि यात्री होटल पहुंच गए।
  • विदेश से आए यात्री होटल में हैं या नहीं, इसकी जांच के लिए प्रत्येक असिस्टेंट कमिश्नर अपने-अपने वॉर्ड में एक टीम गठित करेंगे, जो होटल में जाकर यह सुनिश्चित करेगी कि यात्री होटल में ही है। असिस्टेंट कमिश्नर अपनी टीम के काम की समय-समय पर समीक्षा करेंगे।
  • एयरपोर्ट पर तैनात कर्मचारी वॉर्ड द्वारा नियुक्त टीम को लिस्ट देगा। यह टीम यात्रियों के होटल में जाने के दूसरे दिन व छठवें दिन जाकर जांच करेगी कि लोग वहां हैं और नियमों का पालन कर रहे हैं।
  • वॉर्ड की टीम क्वारंटीन सेंटर की जांच की साप्ताहिक रिपोर्ट तैयार कर अतिरिक्त आयुक्त (परियोजना) और परिमंडल उपायुक्त को भेजेगी।

मुंबई में दूसरे दिन भी मिले कम मरीज

आपको बता दें कि कोरोना मरीजों के बढते ग्राफ को नियंत्रित करने के लिए मुंबई सहित पूरे राज्य में अत्यावश्यक सेवाओं को छोड़कर अन्य चीजों पर कड़ी पाबंदियां लगाई गई हैं। इस पाबंदी के साथ ही सप्ताह की शुरुआत मुंबई में कोरोना के कम मरीजों के साथ हुई है। बता दें कि रविवार के मुकाबले दूसरे दिन मंगलवार को भी कोरोना के कम मरीज मिले हैं।

मंगलवार को मुंबई में कोरोना के 10030 नए मरीज मिले हैं और 31 लोगों की मौत हुई है। रविवार को मुंबई में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 11 हजार के पार हो गया था, लेकिन सोमवार को यह संख्या कम हो गई। सोमवार को मुंबई में कोरोना के 9857 नए मरीज मिले और 21 लोगों की मौत हुई थी।

Load More In mumbai
Comments are closed.