Home देश बढ़ती गर्मी के बीच इन राज्यों में होगी तेज बारिश, जारी किया गया अलर्ट

बढ़ती गर्मी के बीच इन राज्यों में होगी तेज बारिश, जारी किया गया अलर्ट

3 second read
0
6

नई दिल्ली: भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने सोमवार को एक बार फिर से मौसम बदलने को लेकर चेतावनी दी है। भारतीय मौसम विभाग ने देश के कुछ राज्यों को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। भारतीय मौसम विभाग ने असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा को लेकर 30 और 31 मार्च के बीच बारिश और आंधी तूफान को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने 2 अप्रैल तक पूर्वोत्तर भारत में तेज बारिश होने की भविष्यवाणी की है। 30 मार्च से 2 अप्रैल के बीच असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में गरज, बिजली और तेज हवाओं के चलने की संभावना है।

मौसम सम्बधित जानकारी देने वाली निजी संस्था स्काईमेट के अनुसार, उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh Weatehr) में इस हफ्ते तापमान में बढ़ोतरी होगी और राहत मिलने के कोई आसार नहीं हैं। उत्‍तर प्रदेश में कुल मिलाकर बारिश की संभावना नहीं के बराबर है। 30 मार्च से 4 अप्रैल के बीच मौसम गरम रहेगा। इन 6 दिनों में 30 मार्च को तापमान सबसे अधिक 43 डिग्री सेल्सियस और उसके बाद 4 अप्रैल के दिन सबसे अधिक तापमान 40 डिग्री सेल्सियस होने की संभावना है। बाकी के चार दिन भी अधिकतम तापमान 38 डिग्री के ईदगिर्द रहने की संभावना है। इन छह दिनों में 2 अप्रैल के दिन न्यूनतम तापमान 12 डिग्री रहने का पूर्वानुमान है।

मौसम विभाग के अनुसार एक नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हुआ है। जिस वजह से हिमाचल प्रदेश, उत्‍तराखंड, में 29 मार्च को कुछ जगहों पर बारिश और ओले गिरने की संभावना है। पर यूपी में ऐसी कोई संभावना नहीं दिख रही है।

दिल्ली में होली के दिन सोमवार को अधिकतम तापमान 40.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो 76 वर्षों में मार्च में सबसे अधिक है। यह जानकारी भारतीय मौसम विभाग ने दी। भारत मौसम विभाग(IMD) के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि सफदरजंग वेधशाला ने अधिकतम तापमान 40.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया, जो सामान्य से आठ डिग्री अधिक है।

विभाग के मुताबिक मैदानी इलाकों में जब अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक हो जाता है और सामान्य से कम से कम 4.5 डिग्री सेल्सियस अधिक हो, तब उसे ‘लू’ घोषित किया जाता है। वहीं, सामान्य तापमान 6.5 डिग्री सेल्सियस अधिक हो जाने पर प्रचंड लू की घोषणा की जाती है। श्रीवास्तव ने कहा, ‘‘31 मार्च, 1945 के बाद से यह मार्च में सबसे गर्म दिन था, जब राष्ट्रीय राजधानी में अधिकतम तापमान 40.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।’’

Load More In देश
Comments are closed.