Home खेल इस देश ने महिलाओं को बिकनी पहनने पर लगाया रोक, वॉलीबॉल खिलाड़ियों ने किया ऐसे विरोध

इस देश ने महिलाओं को बिकनी पहनने पर लगाया रोक, वॉलीबॉल खिलाड़ियों ने किया ऐसे विरोध

0 second read
0
7

रिपोर्ट: सत्यम दुबे
नई दिल्ली: कतर में महिलाओं को बिकनी पहनने पर रोक लगा दी गई है। आपको बता दें कि कतर एक परंपरावादी इस्लामिक देश है। जिसके कारण वहां की सरकार महिलाओं से परंपरागत रूप से कपड़े पहनने की उम्मीद करती है। लेकिन यहां बड़ी संख्या में विदेशी कर्मचारी और टूरिज्म को बढ़ावा देने लोग है इसका मतलब हो कि इसका अनुपालन पूरी तरह से नहीं हो पाता है। कतर में महिलाओं को बिकीनी और स्थानीय लोगों को स्विमिंग पूल या कुछ प्राइवेट बीच पर देखना असामान्य नहीं है।
आपको बता दें करत के इस नियम को लेकर काफी विरोध हो रहा है।

जर्मनी की बीच वॉलीबॉल स्टार कार्ला बॉर्गर और जूलिया स्यूड ने कतर में अगले महीने होने वाले टूर्नमेंट का बॉयकॉट करने का फैसला किया है। इस दौरान उन्होंने कहा कि “कतर इकलौता देश है जहां खिलाड़ियों को कोर्ट पर बिकीनी पहनने की मनाही है।“

रविवार को एक रेडियो स्टेशन से उन्होने कहा कि कहा कि “हम वहां अपना काम करेंगी, लेकिन हमें अपने काम के लिए जरूरी कपड़े पहनने से रोका जा रहा है।“ इतना ही नहीं उन्होने आगे कहा कि “यह शायद इकलौता देश और इकलौता टूर्नमेंट है जहां सरकार बता रही है कि हमें अपना काम कैसे करना चाहिए। हम इसकी आलोचना करते हैं।“

आपको बता दें कि करत FIVB वर्ल्ड टूर इवेंट की मेजबानी कर रहा है, लेकिन कोर्ट पर कपड़ों को लेकर वहां काफी सख्त नियम बनाए गए हैं। इसी वजह से वर्ल्ड चैंपियनशिप सिल्वर मेडलिस्ट बॉर्गर और और उनकी डबल्स पार्टनर स्यूड ने इवेंट में हिस्सा नहीं लेने का फैसला किया है। यह टूर्नामेंट मार्च में आयोजित होगी। पहली बार दोहा में वर्ल्ड टूर इवेंट हो रहा है।

इस टूर्नांमेंट के लिए महिला खिलाड़ियों को आमतौर पर पहने जाने वाली बिकीनी के स्थान पर शर्ट और लंबी पैंट पहनने के लिए कहा गया है। जिसके बाद फेडरेशन ऑफ इंटरनैशनल वॉलीबॉल ने इस नियम को “मेजबान देश की संस्कृति और परंपराओं के लिए सम्मान” कहा है।

Load More In खेल
Comments are closed.