1. हिन्दी समाचार
  2. खेल
  3. भारतीय टीम में धोनी की कप्तानी में चमके ये तीन दिग्गज खिलाड़ी, कोहली की कप्तानी में हुए फ्लॉप, दो को लेना पड़ा संन्यास

भारतीय टीम में धोनी की कप्तानी में चमके ये तीन दिग्गज खिलाड़ी, कोहली की कप्तानी में हुए फ्लॉप, दो को लेना पड़ा संन्यास

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम एक हमेंशा से ही एक संतुलित टीम के लिए जानी जाती है। जिसका श्रेय कप्तान को जाता है। हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं, कि जब सौरभ गांगुली टीम के कप्तान थे, तो उन्होने टीम को लड़कर जीतना सिखाया था। इसके साथ ही उन्होने अपनी कप्तानी में दो शानदार खिलाड़ियों को परखा था। ये खिलाड़ी कोई और नहीं बल्कि भारतीय टीम के सबसे सफलम कप्तानों में से एक महेंद्र सिंह धोनी और दुनिया के सबसे विस्फोटक बल्लेबाज विरेंद्र सहवाग है।

यही सिलसिला आगे बढ़ा और टीम की कमान अब धोनी के हाथ में थी। धोनी ने भी अपनी कप्तानी में 3 खिलाड़ियों के प्रतिभा को परखा। इन खिलाड़ियों में भी युवराज सिंह, सुरेश रैना और रविचंद्रन अश्विन जैसे दिग्गजों का नाम है। लेकिन ये सिलसिला अब थमता दिखाई दे रहा है। मौजूदा कप्तान विराट कोहली के हाथों में टीम की कमान आने के बाद दो खिलाड़ियों का करियर ही खत्म हो गया। वहीं अश्विन को भी अब उतना मौका नहीं मिल रहा है, जितना धोनी की कप्तानी में मिलता था।

आइये एक नजर डालते हैं इन खिलाड़ियों पर….

युवराज सिंह

वर्ल्ड कप 2011 के मैन ऑद द सीरीज रहने वाले युवराज सिंह ने साल 2007 में टी-20 वर्ल्ड कप में भी अपना शानदार योगदान दिया था। वैसे तो युवराज, सौरव गांगुली की कप्तानी में अपने करियर की शुरुआत की, जिसमें उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया। इसके बाद जब महेंद्र सिंह धोनी भारत के कप्तान बने तो युवराज सिंह ने धूम ही मचा दी। युवराज सिंह ने महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में 2007 टी-20 वर्ल्ड कप और 2011 वनडे वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन किया और ‘मैन ऑफ द टूर्नामेंट’ रहे। लेकिन धोनी के कप्तानी छोड़ने के बाद युवराज कोहली की कप्तानी में अपनी निरंतरता को बरकरार रख पाने में नाकाम रहे और टीम इंडिया से बाहर होकर उन्हें संन्यास लेना पड़ा।

सुरेश रैना

सुरेश रैना धोनी का कप्तानी में फर्श से अर्श पर जा पहुंचे। सुरेश रैना धोनी की टीम के बहुत ही उपयोगी और भरोसेमेंद खिलाड़ी के रूप में शामिल रहे। सुरेश रैना ने धोनी की कप्तानी में एक लंबा वक्त भारतीय टीम के साथ गुजारा। इस दौरान उन्होंने धोनी की कप्तानी में कुल 228 वनडे मैच खेले। इस दौरान उन्होंने 35 की औसत के साथ 6228 रन बनाए। धोनी की कप्तानी में शानदार प्रदर्शन करने वाले रैना के लिए कोहली की कप्तानी ज्यादा रास नहीं आई। कोहली की कप्तानी में उन्होंने 26 वनडे मैचों में 542 रन ही बनाए हैं।

रविचंद्रन अश्विन

अश्विन मौजूदा वक्त में भारतीय टेस्ट टीम के बड़े हथियार हैं, लेकिन अश्विन इस समय वनडे और टी20 फॉर्मेट में टीम से पूरी तरह से बाहर हैं। अश्विन ने धोनी की कप्तानी में शानदार खेल दिखाया। अश्विन ने धोनी की कप्तानी में 78 वनडे मैचों में 105 और 42 टी-20 मैचों में 49 विकेट हासिल किए, लेकिन कोहली की कप्तानी में अश्विन ने 20 वनडे ही खेले. इस दौरान अश्विन केवल 25 विकेट ही ले सके।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads