1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. संसद में बतायें पीएम कैसे करेंगे प्रयाश्चित : राहुल गाँधी

संसद में बतायें पीएम कैसे करेंगे प्रयाश्चित : राहुल गाँधी

कांग्रेस के पूर्व अध्य्क्ष राहुल गांधी ने कहा लखीमपुर खीरी के मामले में मंत्री को कब करेंगें बर्ख़ास्त? शहीद किसानों को कब और कैसे मिलेगा मुवाअज़ा? एम एस पी क़ानून कब बनेगा?

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

मुमताज़ आलम रिज़वी

नई दिल्ली : तीन कृषि क़ानूनों को वापस लेने के बावजूद भाजपा और मोदी सरकार की मुश्किलें कम होती दिखाई नहीं दे रही नहीं हैं। किसानों के साथ साथ और उनकी आवाज़ में आवाज़ मिलाते हुए विपक्षीय पार्टी कांग्रेस अब भी मोदी सरकार को घेरने की कोशिश कर रही है। आज कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की माफ़ी पर ही सवाल उठा दिया। कांग्रेस के पूर्व अध्य्क्ष राहुल गांधी ने अपने एक ट्वीट में लिखा है कि ” जब पीएम ने कृषि विरोधी क़ानून बनाने की माफ़ी मांगी तो संसद में बताएं कि प्रयाश्चित कैसे करेंगे।” राहुल गाँधी यहीं नहीं रुकते बल्कि वो अपने ट्वीट में आगे फिर लिखते हैं और कुछ बुनियादी सवाल भी उठाते हैं ”लखीमपुर मामले के मंत्री को बर्ख़ास्त कब? शहीद किसानों को मुवाअज़ा कितना कब? सत्यग्रहियों के ख़िलाफ़ झूठे केस वापस कब ? एम एस पी पर क़ानून कब ?” इन सवालों के बाद राहुल गांधी फिर आगे लिखते हैं ”इसके बिना माफ़ी अधूरी !” याद रहे कि पिछले माह पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए न केवल तीन कृषि क़ानूनों को वापस लिया था बल्कि उन्होंने देश से इन क़ानूनों के लिए माफ़ी भी मांगी थी।

जब तीन क़ानूनों को वापस लिया गया तो भाजपा को शायद यह यक़ीन हो गया था अब कुछ राहत मिलेगी और इसका फ़ायदा आगामी विधान सभा के चुनाओं में मिल सकेगा लेकिन जिस तरह से किसान और विपक्ष नई मांग के साथ फिर डट गए हैं उससे साफ़ है कि फ़िलहाल भाजपा सरकार के लिए राह आसान नहीं है। किसानों के मुवाअज़े का जहां तक सवाल है तो कल ही लोक सभा में पूछे गए सवाल पर सरकार ने साफ़ कर दिया था कि उसके पास ऐसा कोई आंकड़ा नहीं है कि आंदोलन के दौरान कितने किसानों की मौत हुई है इसलिए मुवाअज़े का सवाल ही पैदा नहीं होता।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...