Home Breaking News सुशांत राजपूत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान मौत मामले की जांच CBI को सौंपने की मांग पर सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट ने मना किया

सुशांत राजपूत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान मौत मामले की जांच CBI को सौंपने की मांग पर सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट ने मना किया

0 second read
0
2

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान के मौत मामले की जांच सीबीआई से करवाए जाने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई से इनकार कर दिया है।

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को इस याचिका को खारिज कर दिया है। यही नहीं सर्वोच्च न्यायालय ने याचिकाकर्ता से याचिका वापस लेने की बात कही। इसके साथ ही याचिकाकर्ता को इस मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाया खटखटाने के लिए भी कहा।

प्रधान न्यायाधीश एस ए बोबडे, न्यायमूर्ति ए एस बोपन्ना और न्यायमूर्ति वी रामासुब्रमणियन की पीठ ने याचिकाकर्ता अधिवक्ता पुनीत ढांडा के वकील विनीत ढांडा से कहा, ‘‘आप बंबई उच्च न्यायालय क्यों नहीं जाते? उन्हें मामले की जानकारी है और वे सुविचारित निर्णय लेंगे। इसके बाद अगर कोई दिक्कत हो तो आप यहां आ जायें।’’

याचिकाकर्ता का कहना था कि दिशा सालियान और राजपूत की मौत की घटनायें परस्पर जुड़ी हैं क्योंकि दोनों की ही संदिग्ध परिस्थितियों में मृत्यु हुयी है। याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि शीर्ष अदालत इस तरह के मामले में पहले सीबीआई जांच का आदेश दे चुकी है।

इस पर पीठ ने कहा, ‘‘आपका मामला हो भी सकता है और नहीं। लेकिन आप उच्च न्यायालय क्यों नहीं जा रहे। बंबई उच्च न्यायालय के साथ क्या समस्या है। वे सारे अधिकारियों को जानते हैं और उनके पास साक्ष्य भी हैं। इसके बाद अगर कोई समस्या हो तो आप यहां आयें।’’

पीठ ने इसके साथ ही याचिकाकर्ता को अपनी याचिका वापस लेकर उच्च न्यायालय जाने की अनुमति प्रदान कर दी। याचिका के अनुसार, ‘‘दिशा सालियान और सुशांत सिंह की संदिग्ध परिस्थितियों में मृत्यु होने की वजह से इन घटनाओं को लेकर तरह तरह की साजिश की बातें की जा रही हैं।’’

आप को बता दे कि 28 साल की दिशा सालियान की आठ जून को मुंबई के मलाड (पश्चिम) में एक रिहाइशी इमारत की 14वीं मंजिल से गिरने के बाद मौत हो गई। इसके चंद दिन बाद ही 14 जून को 34 वर्षीय सुशांत मुंबई के उपनगर बांद्रा में अपने अपार्टमेंट में छत से लटके मिले।

सुशांत की मौत के मामले की जांच शुरू में मुंबई पुलिस कर रही थी। बाद में सुशांत के पिता की शिकायत पर पटना पुलिस ने एक मामला दर्ज किया और बिहार सरकार ने मामले की जांच सीबीआई को दे दी।

अगस्त महीने में सुप्रीम कोर्ट ने मुंबई पुलिस की जांच को भी सीबीआई को सौंप दिया। याचिका में कहा गया है कि अगर शीर्ष अदालत मुंबई पुलिस की जांच रिपोर्ट से संतुष्ट नहीं होती है तो इसे सीबीआई को ट्रांसफर कर देना चाहिए।

Load More In Breaking News
Comments are closed.