Home बिज़नेस Sensex 506 अंक की बढ़त के साथ रिकार्ड उच्च स्तर पर बंद, सरकारी बैंकों व आईटी कंपनियों के शेयर चमके

Sensex 506 अंक की बढ़त के साथ रिकार्ड उच्च स्तर पर बंद, सरकारी बैंकों व आईटी कंपनियों के शेयर चमके

8 second read
0
1

भारत में चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में जीडीपी के आंकड़ों के उम्मीद से बेहतर रहने और मजबूत वैश्विक संकेतों से मंगलवार को घरेलू शेयर बाजारों में जबरदस्त तेजी देखने को मिली। BSE का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक Sensex 505.72 अंक यानी 1.15% की तेजी के साथ 44,655.44 अंक के रिकार्ड उच्च स्तर पर बंद हुआ। इसी तरह NSE Nifty 140 अंक यानी 1.08 फीसद की बढ़त के साथ 13,109 अंक के स्तर पर बंद हुआ। पीएसयू बैंकों की अगुवाई में सभी सेक्टोरल इंडेक्स बढ़त के साथ बंद हुए।

Sensex पर Sun Pharma के शेयरों में सबसे ज्यादा 5.51 फीसद की बढ़त देखने को मिली। इसके बाद IndusInd Bank के शेयरों में 4.37 फीसद, टेक महिंद्रा के शेयरों में 3.86 फीसद, ओएनजीसी के शेयरों में 3.82 फीसद और भारती एयरटेल के शेयरों में 3.46 फीसद की बढ़त दर्ज की गई। इनके अलावा इन्फोसिस, आईसीआईसीआई बैंक, बजाज ऑटो, अल्ट्राटेक सीमेंट, एचडीएफसी, टीसीएस, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एसबीआई, एचसीएल टेक, टाटा स्टील, रिलायंस, मारुति, एशियन पेंट, आईटीसी और एक्सिस बैंक के शेयर हरे निशान के साथ बंद हुए।

दूसरी ओर कोटक महिंद्रा बैंक के शेयरों में सबसे ज्यादा 1.40 फीसद की गिरावट देखने को मिली। इसके अलावा नेस्ले इंडिया, टाइटन, बजाज फाइनेंस, एचडीएफसी बैंक, एनटीपीसी, हिन्दुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड, बजाज फाइनेंस, पावरग्रिड और लार्सन एंड टुब्रो के शेयर लाल निशान के साथ बंद हुए।

विश्लेषकों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों द्वारा लगातार निवेश करने, आईटी और फाइनेंस कंपनियों के शेयरों के चढ़ने से BSE Sensex मंगलवार को 506 अंक की बढ़त के साथ रिकॉर्ड उच्च स्तर पर बंद हुआ।

कारोबारियों का कहना है कि रुपये के मजबूत होने और अन्य एशियाई बाजारों से सकारात्मक संकेत से बाजार धारणा को मजबूती मिली।

शेयर बाजार के अस्थायी आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों ने शुक्रवार को शुद्ध आधार पर 7,712.98 करोड़ रुपये मूल्य के शेयरों की लिवाली की।

मुद्रा बाजार में मंगलवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 37 पैसे मजबूत होकर 73.68 के स्तर पर रहा।

अन्य एशियाई बाजारों की बात की जाए तो शंघाई, टोक्यो, हांगकांग और सिओल में बाजार उल्लेखनीय बढ़त के साथ बंद हुए। यूरोपीय शेयर बाजारों में शुरुआती कारोबार में मिला-जुला रुख देखने को मिला।

Load More In बिज़नेस
Comments are closed.