Home Breaking News महाराष्ट्र में नहीं आएगी किताब, सावरकर महान थे, हैं और रहेंगे: संजय राउत

महाराष्ट्र में नहीं आएगी किताब, सावरकर महान थे, हैं और रहेंगे: संजय राउत

1 min read
0
54

वीर सावरकर पर लिखी गई खिताब को लेकर बवाल बढ़ता जा रहा है। भारतीय जनता पार्टी, विनायक सावरकर के परपोते ने इस पर सवाल उठाते हुए घोर निंदा की थी। अब संजय राउत ने इस पर अपना बयान दिया है।

भोपाल में कांग्रेस सेवादल ने विनायक सावरकर पर छापी किताब

दरअसल, मध्य प्रदेश के भोपाल में कांग्रेस सेवादल ने विनायक सावरकर को लेकर एक किताब छापी है, इस किताब में दावा किया गया है कि विनायक सावरकर और नाथूराम गोडसे में समलैंगिक संबंध थे, तभी से इसपर विवाद हो रहा है।

बीजेपी नेता आशीष शेल्लार ने की घोर निंदा

शुक्रवार को बीजेपी नेता आशीष शेल्लार ने ट्वीट कर अपील की थी कि उद्धव ठाकरे को इस किताब की निंदा करनी चाहिए और ऐलान करना चाहिए कि महाराष्ट्र में ये किताब नहीं आएगी। अब संजय राउत ने इस किताब की घोर निंदा की है।

सावरकर जी के बारे में ऐसा सोचने वाले के दिमाग की गंदगी-राउत

शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा है कि वीर सावरकर एक महान व्यक्ति थे और एक महान व्यक्ति बने रहेंगे। एक वर्ग उनके खिलाफ बात करता रहता है, यह उसके दिमाग में भरी गंदगी को दिखाता है। इसके आगे उन्होंने कहा कि, जो लो सावरकर जी के बारे में ऐसा बोल रहे हैं उनके दिमाग की जांच करनी चाहिए, फिर चाहे वो महाराष्ट्र हो या देश का कोई हिस्सा हर कोई सावरकर जी पर गर्व करता है। जो लोग इस तरह की बातें करते हैं, उनका दिमाग गंदगी से भरा है।

महाराष्ट्र में नहीं आएगी यह किताब

उन्होंने कहा कि शिवसेना का स्टैंड पूरी तरह से साफ है कि वीर सावरकर महान थे, हैं और रहेंगे। जो भी किताब छपी है वो मध्य प्रदेश की गंदगी है, ये कभी भी महाराष्ट्र में नहीं आएगी। ये गैर-कानून है, हमें कोई सावरकर के बारे में ना सिखाए तो ठीक है।

Share Now
Load More In Breaking News
Comments are closed.