Home खेल रणजी क्रिकेटर ही निकला ठग, मंत्री का पीए बताकर ठगे लाखों रुपये

रणजी क्रिकेटर ही निकला ठग, मंत्री का पीए बताकर ठगे लाखों रुपये

0 second read
0
8

रिपोर्ट: पल्लवी त्रिपाठी

हैदराबाद: हैदराबाद में पुलिस ने ठगी के मामले में पूर्व रणजी क्रिकेटर नागराजू को गिरफ्तार कर लिया है।  पुलिस ने आरोपी क्रिकेटर को गिरफ्तार कर जेल भेज  दिया है। बता दें कि आरोपी पूर्व रणजी क्रिकेटर ने अपने विलासिता भरा जीवन जीने का शौक पूरे करने के लिए ठगी का रास्ता अपनाया।

जानकारी के मुताबिक, नागराजू ने बंजारा हिल्स स्थित रेनबो चिल्ड्रेन अस्पताल में फोन कर अस्पताल के संचालक व एमडी डॉक्टर कंचर्ला रमेश का नंबर लिया। इसके बाद उसने डॉ. रमेश को फोन कर उन्हें अपना परिचय नागरिक प्रशासन मंत्री के.तारक रामाराव (KTR) का पीए तिरुपति  रेड्डी के रूप में दिया। साथ ही बताया कि केटीआर मुख्यमंत्री बनने वाले हैं और उन्हें 25 फरवरी को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह के लिए टीवी चैनलों में विज्ञापन देना है। जिसके लिए आरोपी ने डॉक्टर से पचास लाख रुपये की मांग की।

हालांकि, डॉक्टर रमेश को इस फोन कॉल पर शक हुआ। जिसके बाद उन्होंने अपने स्तर से फोन कॉल की जांच की। जहां खुलासा हुआ कि जिस फोन नंबर से उन्हें कॉल की गयी थी, वो मंत्री तिरुपति रेड्डी का नहीं है। फिर क्या था डॉक्टर रमेश के कहने पर अस्पताल के वरिष्ठ प्रबंधक ने बंजारा हिल्स पुलिस थाने में अज्ञात के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने मामले की जांच – पड़ताल शुरू कर दी। जिसके बाद पुलिस ने तकनीकी रूप से छानबीन कर नागराजू को अरेस्ट कर लिया और फिर आज अदालत में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

पुलिस के मुताबिक, मूलत: श्रीकाकुलम जिले के पोलंकी मंडल, एव्वापरिपेटा निवासी बुडूमूरा नागराजू विलासित जीवन जीने का आदी हो गया था। अपने विलासित जीवन जीने के शौक को पूरा करने के लिए उसने ठगी का रास्ता अपना लिया। बता दें कि इसके पहले भी नागराजू को खुद को मंत्री का पीए बता कर धोखाधड़ी से पैसा लूटने का मामला सामने आ चुका है। जिसके चलते आरोपी को जुबली हिल्स और उस्मानिया यूनिवर्सिटी पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।

Load More In खेल
Comments are closed.