1. हिन्दी समाचार
  2. ताजा खबर
  3. दिवालिया हो चुका है पाकिस्तान! इस अधिकारी ने खोली इमरान खान की पोल…

दिवालिया हो चुका है पाकिस्तान! इस अधिकारी ने खोली इमरान खान की पोल…

पाकिस्तान (Pakistan) में हालात इतने खराब हो चुके हैं कि उसके पास चीन के कर्ज (Pakistan World Loan) को चुकाने के लिए भी पैसे नहीं हैं। पाकिस्तान ने चीन के अलावा, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई), सऊदी अरब, विश्व बैंक, अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) से भी भारी मात्रा में कर्ज लिया हुआ है। पाकिस्तान पर घरेलू और विदेशी कर्ज 50 हजार अरब रुपये से भी ज्यादा हो चुका है।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्ली  (NEW DELHI) :पाकिस्तान (Pakistan) के संघीय राजस्व बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष शब्बर जैदी (Shabbar Zaidi) ने कहा है कि उनका देश ‘दिवालिया’ (Bankruptcy)  हो चुका है और ‘भ्रम में रहने’ से बेहतर है कि वास्तविकता को पहचाना जाए। उन्होंने बुधवार को हमदर्द यूनिवर्सिटी (hamdard university) में एक संगोष्ठी को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार में हर कोई कह रहा है कि सब कुछ अच्छा है, जबकि उनके विचार में इस समय पाकिस्तान  दिवालिया (Pakistan Bankruptcy) है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि दर्शकों के लिए एक संदर्भ बिंदु के रूप में अकाउंटिंग टर्म ‘गोइंग कंसर्न’ का उपयोग करते हुए, जैदी (Shabbar Zaidi) ने कहा कि उनका मानना है कि देश इस समय दिवालिया (Bankruptcy)  हो गया है। जैदी ने कहा कि यह स्वीकार करना फिर भी बेहतर है कि किसी देश की अर्थव्यवस्था दिवालिया हो गई है, ताकि समधान खोजे जा सकें। उन्होंने कहा कि यह दावा करके कि देश अच्छा कर रहा है, लोगों को धोखा देने के बजाय समाधान खोजने के साथ देश को दिवालिया (Bankruptcy)  मान लेना ज्यादा अच्छा है।

हालांकि, अपने इस विवादास्पद बयान के बाद जैदी (Shabbar Zaidi)  ने ट्वीट करते हुए स्पष्ट किया कि उनके शब्दों को संदर्भ के साथ नहीं देखा गया और गलत तरीके से पेश कर दिया गया है। इस बात से सहमत होते हुए कि उन्होंने कहा था कि दिवालिएपन और चिंता से संबंधित मुद्दे हैं, जैदी ने कहा कि हमें समाधान भी देखना चाहिए।

कौन है शब्बर जैदी

जैदी (Shabbar Zaidi) ने 10 मई, 2019 से 8 अप्रैल, 2020 तक पाक प्रधानमंत्री इमरान खान (Pakistan Prime minsiter Imran Khan) की सरकार में एफबीआर चेयरमैन के रूप में कार्य किया था। उन्होंने हाल ही में हमदर्द यूनिवर्सिटी (hamdard university में दिए एक भाषण में अपने विचार साझा करते हुए यह विवादास्पद बयान दिया। हालांकि, अब जैदी (Shabbar Zaidi)  ने ट्विटर (Twitter) पर उस बयान से संबंधित वीडियो को लेकर सफाई दी है। उन्होंने कहा कि उनके भाषण के तीन मिनट के क्लिप को लेकर ही बात की जा रही है, लेकिन उन्होंने आगे समाधान की बात भी कही है, लेकिन इस पर किसी ने ध्यान नहीं दिया है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...