1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. आतंकियो की गिरफ्तारी पर अखिलेश यादव ने पुलिस पर ही उठाया सवाल, बोले- ”मुझे UP पुलिस पर भरोसा नहीं है”

आतंकियो की गिरफ्तारी पर अखिलेश यादव ने पुलिस पर ही उठाया सवाल, बोले- ”मुझे UP पुलिस पर भरोसा नहीं है”

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

लखनऊ: यूपी की राजधानी लखनऊ में रविवार को ATS को बड़ी कामयाबी मिली है। ATS ने काकोरी इलाके से अलकायदा के दो आतंकियों को गिरफ्तार किया है। दोनों आतंकियों के हाई लेवल की ट्रेनिंग मिली थी। इसके साथ ही ये आतंकी बम बनाने में माहिर थे। एक तरफ पुलिस को बड़ी कामयाबी मिल रही है। वहीं दूसरी ओर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव राजनीति करने से बाज नहीं आ रहें हैं। पत्रकारों ने जब उनसे इस बारे में सवाल किया तो उन्होंने साफ कहा कि वह उत्तर प्रदेश पुलिस पर भरोसा नहीं करते। भाजपा की सरकार पर तो कतई भरोसा नहीं कर सकते हैं।

आपको बता दें कि इंटेलिजेंस इनपुट मिला था कि काकोरी इलाके में स्थित एक घर में आतंकियों पनाह लिए हैं। मिले इनपुट के आधार पर ही यूपी ATS ने पूरे इलाके की घेराबंदी की और करीब 7 घंटे तक सर्च ऑपरेशन चलाकर मसरुद्दीन और मिन्हाज अहमद को गिरफ्तार किया। ATS को इन दोनों आतंकियों के पास से भारी मात्रा में विस्फोटक और बम बनाने का सामान बरामद हुआ है। इसके साथ ही कुछ प्रेशर कुकर बम और अर्धनिर्मित टाइम बम भी मिले हैं।

गिरफ्तार हुए आतंकी देश के कई हिस्सों में बम ब्लास्ट की योजना बना रहे थे, जिसमें मानव-बम से हमले भी शामिल थे। मिन्हाज अहमद दुबग्गा निवासी है, वहीं मसरुद्दीन मड़ियांव का रहने वाला है। यूपी के ADG (कानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बताया कि आतंकियों के पास से बड़ी संख्या में विस्फोटक सामग्रियां बरामद हुई हैं। इस गिरोह के लोग कानपुर में भी मौजूद हैं, जो स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) के आसपास देश को दहलाने की साजिश में लगे थे।

आपको बता दें कि इन आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद इनके अन्य साथियों की गिरफ्तारी के लिए जगह-जगह ATS की छापेमारी जारी है। गिरफ्तार दोनों आतंकियों को अदालत में पेश किया गया। जिसके बाद यूपी पुलिस ने इन्हे अपनी कस्टडी में ले लिया है। गिरफ्तार अहमद के अब्बा उसी इलाके में एक मोटर वर्कशॉप चलाते हैं और उसका परिवार 15 वर्षों से वहां रह रहा था। पुलिस सूबे के एयरपोर्ट्स, हाइवेज और बस स्टेशनों पर सघन तलाशी अभियान चला रही है।

यूपी एटीएस की मानें तो आतंकियों से पूछताछ में पता चला है कि एक भाजपा सांसद के अलावा कई अन्य भाजपा नेता इनके निशाने पर थे। यूपी एटीएस ने इनके पास से मथुरा, काशी और अयोध्या के धार्मिक स्थानों के नक्शे बरामद किए हैं। वहीं नक्शों में अलग-अलग पॉइंट मार्क किए गए थे।

इसके साथ ही गोरखपुर के भी एक इलाके का डिटेल इनके पास से बरामद हुआ है। वहीं यूपी के कई बड़े शहरों के सार्वजनिक स्थलों की डिटेल भी दोनों आतंकियों के पास से बरामद हुई है। टेलीग्राम और व्हाट्सएप चैट, वीडियो कॉल हिस्ट्री भी एटीएस के हाथ लगी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads