Home क्राइम 3 साल की बेटी को मां ने दी दर्दनाक मौत, मासूम का कसूर इतना कि वो रिमोट के लिए पिता का दे रही थी साथ

3 साल की बेटी को मां ने दी दर्दनाक मौत, मासूम का कसूर इतना कि वो रिमोट के लिए पिता का दे रही थी साथ

3 second read
0
41

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: बेंगलुरु से एक ऐसी दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है, जिसे जानकर आपके भी होश उड़ जायेंगे। अक्सर अपने परिवार में ही TV देखते वक्त रिमोड़ को लेकर आपस में ही अनबन हो जाती है। लेकिन कुछ समय बाद बच्चे हो या बड़े सब अनबन को भुलाकर फिर खुशी से सृरहने लगते हैं, लेकिन बेंगलुरु में एक मां ने रिमोट कंट्रोल के झगड़े को लेकर अपनी नी 3 साल की बेटी की गला दबा कर जान ले ली।

आपको बता दें कि  कलयुगी मां की चौंकानी वाली यह वारदात पश्चिमी बेंगलुरू से सामने आई है।   इस वारदात को 26 साल की सुधा नाम की इस महिला ने अंजाम दिया है। सुधा इतनी कठोर दिल की निकली की उसका अपनी मासूम को मारते वक्त हाथ भी नहीं कांपा। हद तो तब हो गई जब  हत्यारिन मां बेटी को मारने के बाद पुलिस थाने पहुंचकर उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट तक दर्ज करा दी।

आरोपी सुधा पश्चिमी बेंगलुरू इलाके में एक टाइल्स की एक दुकान पर हाउसकीपिंग स्टाफ में काम करती है। जबकि उसका पति एक दिहाड़ी मजदूर है। पति-पत्नी के बीच आए दिन टीवी रिमोट को लेकर लड़ाई-झगड़े होते रहते थे। मासूम बेटी इस बात पर अक्सर अपने पिता का पक्ष लेती थी। घटना वाले दिन भी उसने पापा के पक्ष में बोला। लेकिन उसे नहीं पता था कि पापा के लिए बोलने मां उसे मार डालेगी।

वारदात को अंजाम देने के लिए महिला एक निर्माणाधीन इमारत में बेटी को लेकर गई, जहां उसने गला दबाकर हत्या कर दी और शव के ऊपर ईंट-पत्थर रख दिए। इसके बाद वह गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करान थाने पहुंची। जहां उसने पुलिस को झूठी कहानी बताते हुए कहा कि वह बेटी को घर से बाहर चाट की दुकान पर गोभी मंचूरियन खिलाने के लिए ले गई थी। इसी दौरान जब में ठेले वाले को पैसा देने लगी तो मेरी बेटी गुम हो गई।

मामला दर्ज करवाने के बाद सुधा घर आकर बेटी के लापता होने का नाटक करती रही। वारदात के अगले दिन एक युवक ने निर्माणाधीन इमारत के पास से गुजरते हुए बच्ची का शव देखा तो उसने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और महिला और उसके पति इरन्ना  को बुलाया गया।

जॉच के दौरान पुलिस ने महिला की बताई चाट की दुकान के आसपास जाकर पूछताछ की, लेकिन कोई हल नहीं निकली। वहीं महिला के बार-बार बयान बदलने पर पुलिस को उस पर शक हुआ तो उससे कड़ाई से पूछताछ की। कड़ाई से पूछताछ करने पर आखिरकार सुधा टूट गई और अपना गुनाह कबूल कर लिया।

Load More In क्राइम
Comments are closed.