Home विदेश जानिए आखिर क्यों इस देश की महिला सैनिकों को पहनने पड़ते हैं पुरुषों के अंडरवियर

जानिए आखिर क्यों इस देश की महिला सैनिकों को पहनने पड़ते हैं पुरुषों के अंडरवियर

0 second read
0
178

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: स्विट्जरलैंड  ने अपनी एक पुरानी परंपरा को हटाने का निर्णय लिया है। स्विट्जरलैंड की सेना में एक चौंकाने वाली व्यवस्था अब तक चली आ रही है, जिसको सेना से हटाने का निर्णय लिया गया है। स्विस आर्मी की मौजूदा व्यवस्था में पुरूषों के साथ ही महिलाओं को भी जेंट्स अंडरवियर ही पहनने पड़ते थे। अब ये व्यवस्था बदलने जा रही है। कयास लगाया जा रहा है कि इस नियम को हटाने से सेना में महिलाओं की भागीदारी काफी बढ़ सकती है।

इस मामले में स्विस आर्मी के प्रवक्ता काज गनर सिएवर्ट ने एक वेबसाइट से बातचीत में कहा कि मिलिट्री द्वारा उपलब्ध होने वाले कपड़े और कुछ चीजें पूरी तरह से बीते दौर की बात हो चुकी हैं। ये आउटडेटेड हैं और हमें मॉर्डन दौर के हिसाब से बदलाव की जरूरत है। उन्होंने आगे कहा कि इससे पहले आर्मी की यूनिफॉर्म और उपकरण महिला सैनिकों की सुविधाओं के हिसाब से नहीं होते थे और हमने इस मामले में कुछ महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं।

उन्होने आगे बताया कि महिलाओं के लिए गर्मियों में शॉर्ट अंडरवियर और सर्दियों के लिए लॉन्ग अंडरवियर की व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा कॉम्बेट क्लोदिंग, प्रोटेक्टिव वेस्ट और बैकपेक को भी बेहतर करने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारा पूरा फोकस फिट और फंक्शनल यूनिफॉर्म पर होगा।

आपको बता दें कि स्विट्जरलैंड की रक्षा मंत्री वायोला एमहर्ड ने भी इस कदम का स्वागत किया है, वहीं स्विस नेशनल काउंसिल की सदस्य मेरिएन बाइंडर ने कहा है कि इस कदम से महिलाएं सेना को जॉइन करने के लिए प्रोत्साहित होंगी। स्विस इंफो की रिपोर्ट के अनुसार, स्विस आर्मी यूनिफॉर्म 80 के दशक से चलती आ रही थी।

Load More In विदेश
Comments are closed.