Home देश तमिलनाडु में 20 साल बाद फिर से खिला ‘कमल’, लड़ा था 20 सीटों पर चुनाव

तमिलनाडु में 20 साल बाद फिर से खिला ‘कमल’, लड़ा था 20 सीटों पर चुनाव

0 second read
0
27

नई दिल्ली : तमिलनाडु में 20 साल के अंतराल के बाद भारतीय जनता पार्टी का कमल फिर से खिला है। भाजपा के चार उम्मीदवार राज्य की विधानसभा में प्रवेश करने वाले हैं। पार्टी के राज्य अध्यक्ष एल. मुरुगन ने यह बात कही। मुरुगन के अनुसार, साल 1996 में पार्टी को एक सीट मिली थी, जबकि 2001 में तमिलनाडु विधानसभा के लिए चार विधायक निर्वाचित हुए हैं।

मुरुगन ने कहा कि इस दक्षिणी राज्य में 20 साल बाद भाजपा के पास अब चार विधायक हैं- मोदाकुरिची से सी. सरस्वती, नागरकोइल से एम.आर. गांधी, कोयंबटूर दक्षिण से वनाथी श्रीनिवासन और तिरुनेलवेली से नैनार नागथेनन।

भाजपा ने 20 सीटों पर चुनाव लड़ा था और चार पर जीत हासिल की है।

मुरुगन ने पार्टी को वोट देने वाले लोगों, गठबंधन के सभी सहयोगी दलों और कड़ी मेहनत करने वाले कार्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया।

यहां हुआ दिलचस्प मुकाबला

तमिलनाडु के विधानसभा चुनाव के नतीजों में बड़ा उलटफेर करते हुए कोयम्बत्तूर दक्षिण सीट पर बीजेपी की उम्मीदवार वानती श्रीनिवासन ने मक्कल नीधि मय्यम पार्टी के प्रमुख और सुपरस्टार कमल हासन को हरा दिया है। पहली बार चुनावी मैदान में उतरे कमल हासन की शिकस्त दे दी।

पहली बार इस सीट पर खिला कमल

दक्षिण भारत का मैनचेस्टर कहे जाने वाले कोयम्बत्तूर की यह सीट पहली बार बीजेपी के हाथ आई है। राजनीति के मैदान में पहली बार किस्मत आजमाने उतरे सुपरस्टार से राजनेता बने कमल हासन ने इस सीट को आसान समझकर चुना था, लेकिन बीजेपी उम्मीदवार वानती श्रीनिवासन ने धूल चटा दी। श्रीनिवासन को 52,627 वोट मिले हैं जबकि कमल हासन को 51087 वोट मिले हैं।

Load More In देश
Comments are closed.