Home क्राइम एंबुलेंस नहीं मिलने पर मरीज को कंधे पर उठाया, 12 KM पैदल चलकर पहुंचाया अस्पताल

एंबुलेंस नहीं मिलने पर मरीज को कंधे पर उठाया, 12 KM पैदल चलकर पहुंचाया अस्पताल

0 second read
0
52

रिपोर्ट- पल्लवी त्रिपाठी

झारखंड : प्रदेश में स्वास्थ्य सेवा की बदहाली की ऐसी घटना सामने आयी है, जो आपको सोचने पर मजबूर कर देगी । दरअसल, यहां एक मरीज को एंबुलेंस न मिलने के चलते उसे कंधे पर उठाकर अस्पताल पहुंचाया गया । बता दें कि दो लोगों ने करीब 12 किमी. का फासला तय करके मरीज को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया ।

मामला झारखंड के साहिबगंज के तालझारी क्षेत्र का है । जहां एक महिला की उल्टी और दस्त के चलते हालत इतनी गंभीर हो गयी कि उसे अस्पताल में भर्ती कराने की नौबत आ गयी । लेकिन महिला मरीज को अस्पताल पहुंचाने के लिए जब एंबुलेंस बुलाई गयी, तो एंबुलेंस मौके पर नहीं पहुंची । जिसके बाद महिला के परिजनों ने उसे बांस के जरिए कंधे पर उठाकर अस्पताल पहुंचाने का फैसला किया । महिला मरीज को इस तरह अस्पताल ले जाते हुए देख रास्ते में खड़े लोग दंग रह गए । महिला को 12 किमी. का रास्ता तय करके अस्पताल पहुंचाया गया । जहां उसका इलाज चल रहा है ।

महिला मरीज रूखीराम सोरेन के पति तालामय ने बताया कि ‘उसकी पत्नी की हालत उल्टी व दस्त होने से गंभीर हो गई थी । ऐसे में उसे जब कोई साधन नहीं मिला तो मजबूर होकर बांस के सहारे कंधे पर लादकर पैदल ही उसे अस्पताल लाना पड़ा ।’ उसने बताया कि आसपास के लोगों से सहायता की मांग की थी लेकिन किसी ने एंबुलेंस उपलब्ध नहीं कराई ।

इस मामले को लेकर सिविल सर्जन डॉ. अरविंद कुमार सिंह का कहना है कि ‘उन्हें आपातकालीन स्थिति में 108 नंबर पर फोन कर एंबुलेंस बुलाना था । हालांकि यह जांच का विषय है । आपातकालीन स्थिति में तुरंत एंबुलेंस मिलना व निशुल्क मुहैया कराने के उद्देश्य से सरकार ने 108 एंबुलेंस सेवा शुरू की है ।’

Load More In क्राइम
Comments are closed.