1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. जम्मू-कश्मीर : पुलवामा मुठभेड़ में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, लश्कर कमांडर एजाज सहित तीन आतंकी ढेर, ऑपरेशन अभी भी जारी

जम्मू-कश्मीर : पुलवामा मुठभेड़ में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, लश्कर कमांडर एजाज सहित तीन आतंकी ढेर, ऑपरेशन अभी भी जारी

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में रात एक बजे से चल रही मुठभेड़ में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। इस मुठभेड़ सुरक्षाबलों ने लश्कर कमांर एजाज उर्फ अबू हुरैरा सहित तीन आतंकियों को मार गिराया है। इलाके में कुछ और आतंकियों के छिपे होने की आशंका से ऑपरेशन अभी भी जारी है। आईजीपी कश्मीर ने बताया कि, दो स्थानीय आतंकवादियों के साथ पाकिस्तानी लश्कर कमांडर एजाज उर्फ ​​अबू हुरैरा मारा गया। मुठभेड़ वाली जगह पर काफी संख्या में सुरक्षाकर्मियों और पुलिस को तैनात किया गया है।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने पुलवामा में घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया। इस दौरान आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलियां चला दी, जिससे यह अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया। सुरक्षाबलों ने इस गोलीबारी का माकूल जवाब दिया।

कुलगाम जिले में एक IED निष्क्रिय

वहीं जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में आतंकवादियों द्वारा चिनार के एक पेड़ के नीचे लगाए गए IED को सुरक्षा बलों ने निष्क्रिय कर एक बड़ा हादसा होने से बचा लिया। पुलिस के एक प्रवक्ता ने बुधवार को कहा कि, “काजीगुंड इलाके में दामजेन गांव के बाहरी इलाके में चिनार के पेड़ के नीचे एक आईईडी देखा गया था।” उन्होंने बताया कि पुलिस, सेना और केन्द्रीय रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने तुरंत ही इलाके की घेराबंदी की और बम निरोधक दस्ते को मौके पर बुलाया गया। आईईडी को निष्क्रिय कर उसी स्थान पर नष्ट कर दिया गया। इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है।

8 जुलाई को मारे गए थे दो आतंकवादी

बता दें कि इससे पहले 8 जुलाई को पुलवामा में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए थे। ये मुठभेड़ ऐसे समय हुईं थी जब हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के पांच साल पूरे होने पर गुरुवार को घाटी के कुछ इलाकों में बंद रहा। इसी दिन जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में हुई मुठभेड़ में भी दो आतंकी मारे गए थे। मारे गए आतंकवादियों की पहचान आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा के किफायत रमजान सोफी और अल बद्र के इनायत अहमद डार के रूप में हुई है।

हंदवाड़ा में भी सुरक्षाबलों की बड़ी सफलता

जानकारी के अनुसार दक्षिणी कश्मीर में देर रात मुठभेड़ शुरू हुई। दो आतंकियों के घिरे होने की सूचना मिली थी। सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके को घेर लिया था। सूत्रों ने बताया कि पुलवामा में आतंकियों के छिपे होने की सूचना के बाद सुरक्षा बलों ने तलाशी अभियान चलाया। इस दौरान एक मकान में छिपे आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर फायरिंग शुरू कर दी। एसओपी के अनुसार पहले उन्हें आत्मसमर्पण करने का मौका दिया गया। इसके बाद भी आतंकियों ने समर्पण करने के बजाय फायरिंग जारी रखी। जवाबी कार्रवाई से मुठभेड़ शुरू हो गई। दोनों ओर से देर रात तक फायरिंग जारी रही।

आपको बता दें कि इससे पहले उत्तर कश्मीर के हंदवाड़ा में सुरक्षाबलों की बड़ी सफलता मिली। आतंकवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने हिज्बुल के टॉप कमांडर मेहराजुद्दीन उर्फ उबैद को मार गिराया था। उबैद कई आतंकी गतिविधियों में शामिल था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads