Home बिज़नेस आईटी सॉफ्टवेयर दिग्गज विप्रो का मौजूदा वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही का परिणाम जारी हो गया, कंपनी के मुनाफे में करीब 21 फीसद की हुई बढ़ोत्तरी

आईटी सॉफ्टवेयर दिग्गज विप्रो का मौजूदा वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही का परिणाम जारी हो गया, कंपनी के मुनाफे में करीब 21 फीसद की हुई बढ़ोत्तरी

0 second read
0
1

अक्टूबर से दिसंबर महीने की तिमाही में कंपनी का समेकित शुद्ध लाभ 2968 करोड़ रुपये रहा है। इससे पहले मौजूदा वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में विप्रो का समेकित शुद्ध लाभ 2465.7 करोड़ रुपये रहा था। कंपनी के मुनाफे में सालाना आधार पर भी करीब 21 फीसद का इजाफा हुआ है। पिछले वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में विप्रो का मुनाफा 2455.9 करोड़ रुपये रहा था।

मौजूदा वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में विप्रो का समेकित राजस्व 3.8 फीसद की वृद्धि के साथ 15,670 करोड़ रुपये रहा है। कंपनी को 15,096.7 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था। इस दौरान विप्रो का डॉलर रेवेन्यू ग्रोथ 36 तिमाही में सर्वाधिक रहा है। कंपनी का डॉलर रेवेन्यू ग्रोथ 3.9 फीसद रहा है। यह पिछली तिमाही में 3.7 फीसद था। विप्रो के अनुसार, यह डॉलर रेवेन्यू ग्रोथ 36 तिमाही में सबसे अधिक है।

विप्रो को उसके आईटी सेवा कारोबार से राजस्व $2,102-$2,143 मिलियन रहने का अनुमान है, जो 1.5 से 3.5 फीसद की क्रमिक ग्रोथ में परिवर्तित हो सकता है। कंपनी का समेकित आईटी सर्विसेज राजस्व बढ़कर 15,333 करोड़ रुपये रहा है। यह एक साल पहले की समान अवधि में 15,101 करोड़ रुपये रहा था।

आईटी सर्विसेज सेगमेंट में 89 नए ग्राहक जोड़ने वाली इस कंपनी ने एक रुपये प्रति शेयर के अंतरिम डिविडेंड की घोषणा कर दी है। बुधवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर कंपनी का शेयर 0.2 फीसद की उछाल के साथ 458.80 रुपये पर बंद हुआ है।

Load More In बिज़नेस
Comments are closed.