Home विदेश अमेरिकी राष्ट्रपति की राजनीति के इतिहास में बिडेन सबसे खराब उम्मीदवार,डोनाल्‍ड ट्रंप

अमेरिकी राष्ट्रपति की राजनीति के इतिहास में बिडेन सबसे खराब उम्मीदवार,डोनाल्‍ड ट्रंप

1 second read
0
0

अमेरिका में राष्‍ट्रपति पद का चुनाव दिलचस्‍प मोड़ पर पहुंच गया है। इन दिनों दोनों ओर से आरोप-प्रत्‍यारोप का दौर जारी है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति पद के अपने प्रतिद्वंद्वी जो बिडेन को ‘अमेरिका के इतिहास में सबसे खराब उम्मीदवार’ करार दिया और इसके लिए डेमोक्रेटिक नेता की हालिया कुछ गलतियों पर जमकर हमला बोला है।

रिपब्लिकन उम्मीदवार ट्रम्प (74) और डेमोक्रेटिक उम्मीदवार बिडेन (77) के बीच कड़ी टक्कर है। राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए तीन नवंबर को मतदान होगा।

ट्रंप ने मंगलवार को पेन्सिलवेनिया में अपने समर्थकों के बीच कहा, ‘मैं अमेरिकी राष्ट्रपति की राजनीति के इतिहास में सबसे खराब उम्मीदवार के खिलाफ चुनाव लड़ रहा हूं और आप जानते हैं कि वह क्या करते हैं? इससे मुझ पर अधिक दबाव पड़ता है। क्या आप कल्पना कर सकते हैं कि अगर आप इस तरह के व्यक्ति से हार जाएं.

ट्रंप ने याद दिलाया कि हाल ही में कैसे बिडेन अपने भाषण के बीच में ही राष्ट्रपति पद के पूर्व रिपब्लिकन उम्मीदवार मिट रोमनी का नाम भूल गए। राष्ट्रपति ने कहा, ‘यह अविश्वसनीय है। यह कितनी खराब बात है। यह बहुत ही शर्मनाक है। अगर वह जीतते हैं तो चरम वामपंथी देश चलाएंगे। वह देश नहीं चलाएंगे। चरम वामपंथी सत्ता हथिया लेंगे।

ट्रंप ने कहा, ‘हम जीत कर व्हाइट हाउस में चार साल और रहेंगे। यह चुनाव एक सरल विकल्प है। यदि बिडेन जीत जाते हैं, तो चीन जीत जाएगा। ऐसे सभी अन्य देश जीत जाएंगे। सब हमें नुकसान पहुंचाएंगे। यदि हम जीतते हैं, तो आप जीतते हैं, पेंसिल्वेनिया जीतता है और अमेरिका जीतता है। बहुत ही सीधी बात है।

डोनाल्‍ड ट्रंप हाल ही में कोरोना वायरस संक्रमण से उबरे हैं। कोरोना संक्रमण से मुक्‍त होते ही उन्‍होंने चुनाव प्रचार में सक्रिय भूमिका फिर निभानी शुरू कर दी है।

ट्रंप चुनाव प्रचार में पूरा दम लगा रहे हैं। हालांकि, अभी तक यह कह पाना बेहद मुश्किल है कि ट्रंप और बिडेन में से किसका पलड़ा भारी रहेगा। गौरतलब है कि अमेरिका में कोरोना संकट के बीच चुनाव हो रहा है।

बीते कई माह से कोविड-19 संक्रमण के मामलों में अमेरिका दुनिया में शीर्ष पर है। रायटर्स के मुताबिक पूरी दुनिया में वर्तमान में 38,093,144 मामले सामने आ चुके हैं और 1,084,676 मरीजों की मौत हो चुकी है जबकि 26,725,266 मरीज ठीक भी हो चुके हैं।

Load More In विदेश
Comments are closed.