1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. गोरखपुर में एमएससी की डिग्री लेने आये अजय सिंह बिष्ट कैसे बने सीएम योगी आदित्यनाथ, पढ़े उनका पूरा सियासी सफर

गोरखपुर में एमएससी की डिग्री लेने आये अजय सिंह बिष्ट कैसे बने सीएम योगी आदित्यनाथ, पढ़े उनका पूरा सियासी सफर

By Amit ranjan 
Updated Date

लखनऊ : नाम- योगी आदित्यनाथ, पता- सीएम ऑफिस, लखनऊ, जी हां ये वहीं, पता है जहां उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले में जन्मे अजय सिंह बिष्ट रहते थे, जो अब सीएम योगी आदित्यनाथ बन चुके है। वे गोरखपुर आये तो थे गणित की मास्टर डिग्री लेने, लेकिन वे योगी बन गये और खुद को परिवार से अलग कर अपना जीवन समाज को समर्पित किया। हम बात कर रहे है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की, जो आज अपना 49वां जन्मदिन मना रहे है।

योगी आदित्यनाथ का जन्‍म 5 जून 1972 को उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले के पंचूर गांव में हुआ था। इनके पिता का नाम आनन्‍द सिंह बिष्‍ट और माता का नाम सावित्री देवी है। योगी कुल सात-भाई बहन हैं। योगी आदित्यनाथ अपने माता-पिता के पांचवें संतान हैं। मात्र 22 साल की उम्र में वह योगी बन गए।

”गणित से मास्टर हैं योगी आदित्यनाथ”

गढ़वाल विश्‍वविद्यालय से गणित से बीएससी करने वाले योगी आदित्यनाथ साल 1993 में गणित में एमएससी की पढ़ाई के दौरान गोरखपुर पहुंचे। जहां उन्होंने 15 फरवरी 1994 को गोरखनाथ मंदिर के महंत अवैद्यनाथ से दीक्षा लेकर घर को छोड़ दिया और योगी बन गए।

साल 1998 में महंत अवैद्यनाथ ने योगी आदित्यनाथ को अपना उत्तराधिकारी घोषित कर दिया। इसके अलावा उन्होंने योगी आदित्तयनाथ को लोकसभा प्रत्याशी भी घोषित कर दिया। जिसके बाद हुए चुनाव में वह मात्र 26 साल की ही उम्र में जीतकर हासिल कर संसद भवन पहुंचे और उन्हें सबसे कम उम्र में सांसद बनने का गौरव हासिल हुआ।

‘विवादों से हुआ सामना’

समय के साथ योगी आदित्यनाथ की ख्याति भी बढ़ती चली गईष मुख्यमंत्री बनने से पहले उनका विवादों के साथ चोली दामन का साथ रहा हैष 10 फरवरी, 1999 में महाराजगंज जिले के थाना कोतवाली स्थित पचरुखिया कांड ने योगी को और चर्चा में ला दिया था। इसी कांड के बाद से उनके ऊपर कई बार एक धर्म के विरोधी और सांम्प्रदायिक भाषण देने का आरोप लगा। गोरखपुर में हुए संप्रदायिक दंगों के दौरान उन्हें जेल भी जाना पड़ा।

लगातार पांच बार जीते लोकसभा चुनाव

इसी दौर में योगी आदित्यनाथा ने हिन्दू युवा वाहिनी और बजरंग दल जैसे संगठनों को मजबूती दी। योगी आदित्यनाथ ने हिन्दुत्व और विकास का झंडा बुलंद किया। साल 2007 के विधानसभा चुनाव और 2009 के लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने बगावती तेवर भी दिखाए।

योगी आदित्यनाथ ने साल 1998, 99, 2004, 2009 और 2014 के लोकसभा चुनाव में लगातार पांचवी जीत हासिल की। साल 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मिली जीत के बाद उन्हें मुख्यमंत्री चुना गया और 19 मार्च 2017 को उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads