1. हिन्दी समाचार
  2. बिज़नेस
  3. आज भारतीय बाजारों में सोने और चांदी की कीमतों में बढ़ोतरी हुई, वैश्विक बाजारों में कीमती धातुओं की कीमत में उछाल

आज भारतीय बाजारों में सोने और चांदी की कीमतों में बढ़ोतरी हुई, वैश्विक बाजारों में कीमती धातुओं की कीमत में उछाल

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

एमसीएक्स पर सोना वायदा 0.16 फीसदी बढ़कर 52,252 रुपये प्रति 10 ग्राम रहा, जबकि चांदी 0.8 फीसदी बढ़कर 65,880 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई। सोने की कीमत में पिछले हफ्ते तेजी आई थी, पांच दिनों में यह लगभग 1,500 रुपये प्रति 10 ग्राम तक उछला। अगस्त में सोना 56,200 रुपये प्रति 10 ग्राम के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया था।

वैश्विक स्तर पर, आज कमजोर डॉलर के चलते सोने की कीमत में तेजी आई है। हाजिर सोना 0.2 फीसदी बढ़कर 1,955.76 डॉलर प्रति औंस हो गया। चांदी 0.5 फीसदी बढ़कर 25.72 डॉलर प्रति औंस हो गई और प्लैटिनम 0.8 फीसदी बढ़कर 896 डॉलर हो गया।

डॉलर इंडेक्स लगभग दो महीने के निचले स्तर पर यानी 92.177 के करीब था। एक कमजोर अमेरिकी डॉलर अन्य मुद्राओं के धारकों के लिए सोना अधिक सस्ता बनाता है। सोना का कारोबार ज्यादातर अमेरिकी डॉलर में होता है और भारत सोने का बड़ा आयातक है।

दुनिया के सबसे बड़े स्वर्ण-समर्थित एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड, एसपीडीआर गोल्ड ट्रस्ट की होल्डिंग शुक्रवार को 0.63 फीसदी बढ़कर 1,260.30 टन हो गई। दुनिया भर में बढ़ते कोरोना वायरस मामलों पर चिंताओं से भी सोना प्रभावित हुआ है। वैश्विक कोविड-19 संक्रमण के मामले पांच करोड़ से अधिक हो गए हैं।

धनतेरस और दिवाली के समय सोने की खरीद को काफी शुभ माना जाता है। इस बीच सरकार ने आज से सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम की आठवीं सीरीज सब्सक्रिप्शन के लिए खोल दी है। इस बॉन्ड में 13 नवंबर तक निवेश किया जा सकता है। इस गोल्ड बॉन्ड के लिए सोने की कीमत 5,177 रुपये प्रति ग्राम तय की गई है। वहीं अगर गोल्ड बॉन्ड की खरीद ऑनलाइन तरीके से की जाती है तो सरकार ऐसे निवेशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की अतिरिक्त छूट मिलेगी।

भारत में इस साल वैश्विक स्तर के अनुरूप सोने की कीमतें 31 फीसदी बढ़ी हैं। अगस्त में सोना भारत में 56,200 के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया था, जबकि चांदी 80,000 रुपये प्रति किलोग्राम के करीब थी। विश्लेषकों के उम्मीद जताई कि भारत में सोने की मांग त्योहारी सीजन में बढ़ेगी। सोना व्यापक प्रोत्साहन उपायों से प्रभावित होता है क्योंकि इसे व्यापक रूप से मुद्रास्फीति और मुद्रा में आई गिरावट के खिलाफ बचाव के रूप में देखा जाता है।

मालूम हो कि वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल (World Gold Council) की रिपोर्ट के अनुसार मौजूदा समय में भारत के पास 653 मेट्रिक टन सोना है। इसके साथ ही सबसे ज्यागा गोल्ड रिजर्व के मामले में भारत दुनिया में 9वें स्थान पर आता है। यह उसके कुल विदेशी मुद्रा भंडार का 7.4 फीसदी है।

भारत में सोने का आयात अगस्त में बढ़कर 3.7 अरब डॉलर हो गया, जो पिछले साल इसी महीने में 1.36 अरब डॉलर था। चीन के बाद भारत सोने का दूसरा सबसे बड़ा खरीदार है। भारत में सोने पर 12.5 फीसदी आयात शुल्क और तीन फीसदी जीएसटी लगता है।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...