1. हिन्दी समाचार
  2. क्राइम
  3. बाबा के ढाबा वाले बुजुर्ग कांता प्रसाद ने की आत्महत्या की कोशिश, हालत नाजुक

बाबा के ढाबा वाले बुजुर्ग कांता प्रसाद ने की आत्महत्या की कोशिश, हालत नाजुक

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बाबा का ढ़ाबा चलाने वाले बुगुर्ग कांता प्रसाद ने शनिवार रात को आत्महत्या की कोशिश की। कांता प्रसाद को दिल्ली सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उनकी हालत अभी भी नाजुक बताई जा रही है। कांता प्रसाद ने यह कदम क्यों उठाया इस बात की जानकारी नहीं मिल पाई है। फिलहात पुलिस मामले की जांच कर रही है।

आपको बता दें कि कांता प्रसाद एक विडियो के बाद देशभर में चर्चित हो गए थे। उन्होंने पब्लिक से मिले मदद के पैसों से एक नया रेस्टोरेंट खोला था, लेकिन नुकसान के बाद करीब चार महीने पहले उसे बंद कर दिया था। पैसों की हेराफेरी के आरोप लगाने के बाद पिछले दिनों उनकी यूट्यूबर गौरव वासन से भी सुलह हो गई थी। दिल्ली के मालवीय नगर इलाके में सड़क किनारे अपना ढाबा चला रहे थे।

पुलिस की मानें तो गुरुवार रात पीसीआर को कॉल आई कि किसी ने आत्महत्या करने की कोशिश की है। पुलिस जब मौके पर पहुंची तो देखा कि 80 वर्षीय कांता प्रसाद हैं। कांता की पत्नी बादामा देवी ने पुलिस को बताया कि उनके पति पिछले कुछ दिनों से तनाव में थे। जबूकि टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक कांता प्रसाद ने शनिवार देर रात आत्महत्या की कोशिश की। उन्होंने नींद की गोलियां खाईं, जिससे उनकी तबीयत बिगड़ गई।

रिपोर्ट में आगे बताया गया कि, कांता प्रसाद को तुरंत दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत नाजुक बताई जा रही है। पुलिस इस मामले की आत्महत्या की कोशिश के नजरिए से जांच कर रही है। आपको बता दें कि कांता प्रसाद सोशल मीडिया पर एक वायरल वीडियो के जरिए देशभर में चर्चा में आए थे। उनकी मदद के लिए कई लोगों ने मदद का हाथ बढ़ाया था, जिसके बाद उनकी आर्थिक स्थिति काफी बेहतर हो गई थी। कांता प्रसाद ने क्राउड फंडिंग से मिले पैसों से नया रेस्टोरेंट खोला था।

इसके बाद उन्होंने दो शेफ और एक हेल्पर को नौकरी पर रखा था। लॉकडाउन में रेस्टोरेंट पर ताला लगने के कारण उन्हें काफी नुकसान हुआ था, जिसके बाद उनको इसे बंद करना पड़ा। पिछले साल यूट्यूबर गौरव वासन ने बाबा का एक वीडियो बनाकर शेयर किया था, जिसमें कांता प्रसाद ने रोते हुए बताया था कि उनके दो बेटे और एक बेटी है, लेकिन कोई मदद नहीं करता है।

कांता प्रसाद और उनकी पत्नी दिनभर ढाबे पर खाना बनाकर बेचते हैं। यह वीडियो सोशल मीडिया पर इतना वायरल हुआ कि रातों-रात बाबा की किस्मत बदल गई। बड़ी संख्या में लोग उनकी मदद के लिए सामने आए और ढाबे पर लंबी कतार लग गई। लोग उनके साथ एक फोटो खिंचाने के लिए उतावले होने लगे थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads