1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Covishield और Covaxin डेल्टा वैरिएंट के खिलाफ हैं कारगर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने की पुष्टी

Covishield और Covaxin डेल्टा वैरिएंट के खिलाफ हैं कारगर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने की पुष्टी

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: कोरोना महामारी को मात देने के लिए सरकार लगातार वैक्सीनेशन पर जोर दे रही है। कोरोना का दूसरा लहर देश में कहर बनकर टूटा था। महामारी से चारो तरफ हाहाकार मच गया था। केंद्र सरकार के नीति और वैक्सीनेशन को लेकर रणनीति का ही परिणाम है कि दूसरा लहर देश में कमजोर हो गया है। इन सब के बीच अब तीसरे लहर की भी आशंका जताई जाने लगी है। जिसको लेकर मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि डेल्टा वैरिएंट भारत समेत कितने देशों में पाया गया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि डेल्टा वैरिएंट भारत सहित 80 देशों में पाया गया है। इस वैरिएंट को वैश्विक स्तर पर ‘चिंता के रूप’ देखा जा रहा है। डेल्टा वैरिएंट पर कोरोना रोधी वैक्सीन कितनी कारगार है, इस सवाल पर केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि मोटे तौर पर दोनों वैक्सीन जो हम कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम में उपयोग कर रहे हैं कोवीशील्ड और कोवैक्सीन डेल्टा वैरिएंट के खिलाफ प्रभावी हैं। लेकिन वे किस हद तक और किस अनुपात में एंटीबॉडी का उत्पादन करती हैं, जिसे हम जल्द ही आपके साथ साझा करेंगे।

आपको बता दें कि इसके साथ ही उन्होंने बताया कि डेल्टा प्लस वैरिएंट 9 देशों में पाया गया है। ये देश अमेरिका, ब्रिटेन, पुर्तगाल, स्विटजरलैंड, जापान, पोलैंड, नेपाल, चीन और रूस आदि देश हैं। भारत में डेल्टा प्लस वैरिएंट के 22 मामले पाए गए हैं। इनमें 22 में से 16 मामले रत्नागिरी और जलगांव (महाराष्ट्र) में और कुछ मामले केरल और मध्य प्रदेश में पाए गए हैं।

वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और विदेश मंत्रालय मिलकर एक वैश्विक वेबिनार की योजना बना रहे हैं। इस वेबिनार में ऐसे संभावित इच्छुक देशों को आमंत्रित किया जाएगा और हम उनके साथ प्रौद्योगिकी और समाधान साझा करने के इच्छुक होंगे।

इन सब के बीच टीकाकरण रजिस्ट्रेशन में कुछ लोगों को हो रही दिक्कत पर राजेश भूषण ने कहा कि कई बार आलोचना के बावजूद CoWIN एप को ज्यादातर प्रशंसा मिली है। इसने खुद को एक बहुत ही मजबूत, सर्व-समावेशी, सरल आईटी-आधारित प्लेटफॉर्म के रूप में स्थापित किया है।

आपको बता दे कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कल 21 जून को पूरे देशभर में 88,09,000 कोविड वैक्सीन की डोज लगाई गई। 40,43,000 वैक्सीन की डोज कल महिलाओं को लगाई गई और 47,24,283 वैक्सीन की डोज पुरुषों को लगाई गई।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads