1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. CM योगी ने की नए ग्राम प्रधानों से मुलाकात, बोले-अब कोरोना से जंग की संभालें कमान

CM योगी ने की नए ग्राम प्रधानों से मुलाकात, बोले-अब कोरोना से जंग की संभालें कमान

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

गोरखपुर: कोरोना महामारी के दूसरे लहर का कहर लगातार जारी है। कोरोना से संक्रमित मरीज ऑक्सीजन और दवाईयों की कमीं से लगातार दम तोड़ रहें हैं। महामारी के दूसरे लहर ने कई हंसते-खेलते परिवारों को तबाह कर दिया है। उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी वापसी करता हुआ दिखाई दे रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सूबे के हर जिले में भ्रमण कर स्थिति की जायजा ले रहें हैं। इसी कड़ी में गुरुवार को वो सिद्धार्थनगर के दौरे पर रवाना होने से पहले गोरखनाथ मंदिर के पीठाधीश्वर कक्ष में गुरुवार को पंचायत प्रतिनिधियों से मुलाकात की।

आपको बता दें कि सीएम योगी से आशीर्वाद लेने पहुंचे। इस दौरान सीएम योगी ने ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य और जिला पंचायत सदस्यों से कहा कि कोरोना से जंग में अपनी अहम भूमिका निवर्हन करें। उन्होंने नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों को बधाई देते हुए कहा कि ग्राम पंचायत के व्यापक हितों को ध्यान में रख कर, जहां आवश्यकता पड़े, वहां पर वे पूर्व प्रधान का सहयोग लें।

सीएम ने इस दौरान सभी से कहा कि गांव की नियमित साफ-सफाई एवं सैनेटाइजेशन किया जाए। लोगों को मास्क के अनिवार्य उपयोग और दो गज की दूरी का पालन करने के लिए निरन्तर जागरूक व प्रोत्साहित किया जाए। इसके साथ ही उन्होने पंचायत प्रतिनिधियों से कहा कि निशुल्क कोविड टीकाकरण कराया जा रहा है। पंचायत प्रतिनिधि बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले और ज्यादा से ज्यादा लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करें। टीकाकरण के दौरान ज़ीरो वेस्टेज और कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन किया जाए।

उन्होने कहा कि सभी जिलों में 18 से 44 आयुवर्ग के लोगों का वैक्सीनेशन प्रारम्भ हो चुका है, इसके लिए पंजीकरण अनिवार्य है, गांव में लोगों का पंजीकरण ज्यादा से ज्यादा हो, पंचायत प्रतिनिधि यह सुनिश्चित कराएं। उन्होंने कहा अब निगरानी समितियों की अध्यक्षता भी ग्राम प्रधान करेंगे। इसलिए बैठक कर निगरानी समितियों के सदस्यों यथा एएनएम, आशा कार्यकत्र्री, पूर्व ग्राम प्रधान समेत सभी को साथ लेकर कोविड संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को जागरूक करने के साथ डोर-टू-डोर सर्वे कर लक्षणयुक्त और संक्रमण की दृष्टि से संदिग्ध लोगों की स्क्रीनिंग कराएं। उन्हें मेडिकल किट दिलाना सुनिश्चित करें।

इसके साथ ही निगरानी समितियों के सजग प्रयास से हमारे गांव संक्रमण से सुरक्षित रहेंगे। सभी के सामूहिक प्रयासों से हमें गांवों को कोरोना मुक्त गांव बनाना है। संक्रमण की दृष्टि से संदिग्ध लोगों को आवश्यकतानुसार होम आइसोलेशन, क्वारण्टीन सेण्टर अथवा अस्पताल में भेजा जाए।

सीएम योगी ने मंदिर परिसर का भ्रमण किया। इसके बाद गुरु गोरक्षनाथ का दर्शन पूजन कर ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की समाधि पर माथा टेक आशीर्वाद लिया। उसके बाद 35 मिनट तक गोशाला में गायों के बीच मौजूद रहे। उन्हें चना और गुड़ खिलाया। उसके बाद अपने स्वान कालू से भी मिले। सीएम ने मंदिर परिसर में चल रहे निर्माण कार्यो का भी जाएजा लिया और जरूरी दिशा निर्देश दिए। उनके साथ मंदिर के पुजारी योगी कमलनाथ, मंदिर सचिव द्वारिका तिवारी, वीरेंद्र सिंह, अजय सिंह समेत अन्य लोग भी मौजूद रहे।

इसके बाद सीएम योगी गोरखनाथ मंदिर में जनता दर्शन का कार्यक्रम कोविड 19 के संक्रमण के कारण स्थगित है लेकिन सीएम के आगमन की खबर सुन कर कुछ फरियादी भी पहुंच गए। सीएम के संज्ञान में यह बात आई तो उन्होंने बारी बारी सभी को बुला कर उनकी शिकायत सुनी और कार्यवाही के प्रति उन्हें आश्वस्त किया।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads