1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. सीएम योगी ने 851 करोड़ की लागत से 56 जिलों की 2500 से ज्यादा सड़कों को शिलान्यास व लोकार्पण किया

सीएम योगी ने 851 करोड़ की लागत से 56 जिलों की 2500 से ज्यादा सड़कों को शिलान्यास व लोकार्पण किया

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

सीएम योगी ने 851 करोड़ की लागत से 56 जिलों की 2500 से ज्यादा सड़कों को शिलान्यास व लोकार्पण किया

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत रविवार 29 नवंबर को प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने यूपी के 56 जिलों में 204 करोड़ रुपए की लागत से 2095 किलोमीटर लंबे 748 मार्गों और पंचायती राज विभाग के माध्यम से 647 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाली 2000 किलोमीटर लंबी 1825 सड़कों का लोकार्पण व शिलान्यास किया।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने के लिए सड़कों का निर्माण किया जा रहा है। यह खुशी की बात है क्योंकि सड़कों के निर्माण से ही विकास को रफ्तार मिलेगी।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने सरकारी आवास पर रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंक के माध्यम से अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जितना धन ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत के विकास कार्यों के लिए उपलब्ध कराया हैं।

यदि उस धन का सही उपयोग पंचायती रात की ये संस्थाएं करने लगे तो विकास और रोजगार की व्यापक संभावनाएं उपलब्ध हो जाएंगे। हर गांव में बेहतर कनेक्टिविटी दी जा सकती है। इससे गांवों में कूड़ा प्रबंधन का बेहतर काम हो सकता है। इन कार्यों से वहां रोजगार का भी दिया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत सिर्फ सरकार के धन पर ही निर्भर न रहें, वे स्वयं की आय कैसे बढ़ा सकते हैं इसके बारे में करें। पंचायतें यदि स्वावलंबी बनेंगी तो गांव का हर व्यक्ति स्वावलंबी बनेगा।

सीएम ने कहा कि आज ग्राम्य विकास विभाग के द्वारा और पंचायती राज विभाग के द्वारा भी ग्रामीण अर्थव्यवस्था की आधार ग्रामीणों सड़कों के निर्माण के एक बड़े कार्यक्रम को आज आगे बढ़ाया गया है। कहा कि पंचायतीराज पंचायत विभाग के माध्यम से सड़कों की एक बड़ी प्रक्रिया को आगे बढ़ा रही है। कहा कि, पंचायती राज विभाग के माध्यम से 647 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाली 2000 किलोमीटर लंबी 1825 सड़कों का शिलान्यास हो रहा है।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत 56 जिलों में 204 करोड़ रुपए की लागत से 2095 किलोमीटर लंबे 748 मार्गों का लोकार्पण हो रहा है। उन्होंने कहा कि आजादी के पांच दशक तक भारत की ग्रामीण व्यवस्था उन योजना से वंछित रह गई, जो विकास की प्रक्रिया के सबसे बड़े माध्य होते है अच्छी सड़के।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...