1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. कोरोना महामारी से जान गंवाने वाले पत्रकारों के प्रति CM योगी ने जताई गहरी संवेदना, परिवार को दी 10-10 लाख रुपये की आर्थिक मदद

कोरोना महामारी से जान गंवाने वाले पत्रकारों के प्रति CM योगी ने जताई गहरी संवेदना, परिवार को दी 10-10 लाख रुपये की आर्थिक मदद

कोरोना महामारी को योगी सरकार ने अब सूबे में खत्म होने की कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिस तरीके से कोरोना महामारी को मात देने के लिए काम किया है।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

लखनऊ: कोरोना महामारी को योगी सरकार ने अब सूबे में खत्म होने की कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिस तरीके से कोरोना महामारी को मात देने के लिए काम किया है। कोरोना के खिलाफ बनाई गई उनकी नीति और रणनीति से उत्तर प्रदेश तो निजात पा ही गया है। वहीं दूसरे राज्यों ने भी सीएम योगी को 3-T (टेस्टिंग, ट्रैकिंग और ट्रिटिंग)  पर काम करते हुए कोरोना पर विजय की ओर बढ़े हैं।

आपको बता दें सीएम योगी ने एक और अच्छी पहल की है, कोरोना महामारी के कारण जिन पत्रकारों ने जिम्मेदारी निभाते हुए दूसरों को सजग कर खुद महामारी के हार गये थे। उनके प्रति भी अपनी गहरी संवेदना जताई है। इसके साथ ही महामारी के कारण जान गंवाने वाले 55 पत्रकारों के परिजनों को 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी है। इतना ही नहीं CM योगी ने पत्रकारों के लिए हेल्पलाइन की भी शुरुआत की है।

सीएम योगी ने कहा कि हम सब जानते हैं कि पिछले 15-16 महीने से पूरा देश, पूरी दुनिया इस सदी की सबसे बड़ी महामारी से जूझ रही है, हर तबका इस बीमारी से प्रभावित हुआ है। सीएम योगी ने कहा कि जब पहली लहर को हमने एक प्रकार से नियंत्रित कर दिया, तभी वैक्सीनेशन का कार्यक्रम भी शुरू हुआ। मीडिया के पास कोई सुरक्षा कवच नहीं था, ऐसे में रजत जी ने पत्रकारों के वैक्सीनेशन की अपील की, हमने नोएडा और लखनऊ में दो बूथ शुरू किए। इन दोनों बूथों पर इन लगभग 25 हजार लोगों को वैक्सीन दी गई। सीएम योगी ने कहा कि आज हम लगभग कोरोना को नियंत्रित करने के नजदीक है, लेकिन कुछ नहीं कहा जा सकता ये कब वापस आ जाए।

जिन पत्रकारों के परिवार को सीएम योगी ने आर्थिक मदद की उनमें रोहित सरदाना-नोएडा, प्रमोद श्रीवास्तव, लखनऊ, पंकज कुलश्रेष्ठ-आगरा, कुणाल श्रीवास्तव-नोएडा, शिव नंदन साहू-कौशांबी, सच्चिदानंद गुप्ता-लखनऊ, हिमांशु जोशी-लखनऊ, अंजनी कुमार निगम-बांदा, अनिल श्रीवास्तव-बस्ती, राजीव पवैया-ललितपुर, अंकित शुक्ला-लखनऊ, शफी अहमद-रामपुर,राकेश चतुर्वेदी- वाराणसी, मुन्ना लाल-कासगंज, अंकित श्रीवास्तव-सिद्धार्थनगर, कैलाशनाथ- जौनपुर, अमरेंद्र सिंह-लखनऊ, मधुसूदन त्रिपाठी-लखनऊ, सुशीला देवी-बस्ती, ऊषा अग्रवाल-मुरादाबाद,अरुण पांडेय-कानपुर,राम नरेश तिवारी-औरैया, सलाउद्दीन शेख-लखनऊ,के के सिन्हा-अयोध्या।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...