1. हिन्दी समाचार
  2. business news
  3. GST काउंसिल की बैठक के बाद वित्त मंत्री का बड़ा ऐलान, ब्लैक फंगस की दवाओं पर जीएसटी खत्म और रेमडेसिविर…

GST काउंसिल की बैठक के बाद वित्त मंत्री का बड़ा ऐलान, ब्लैक फंगस की दवाओं पर जीएसटी खत्म और रेमडेसिविर…

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : कोरोना से जुड़ी राहत सामग्री पर मंत्रि समूह की सिफारिशों को आज जीएसटी काउंसिल ने स्वीकार कर लिया है। इस बैठक के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ऐलान करते हुए कहा कि ब्लैक फंगस की दो दवाओं, टोसिलिमैब, एम्फोटेरिसिन पर से जीएसटी खत्म कर दी गई है। इसके अलावा अब रेमडेसिविर पर 5 फीसदी जीएसटी लगाई जाएगी। बता दें कि पहले इस दवा पर 12 फीसदी जीएसटी ली जा रही थी।

काउंसिल की बैठक के बाद सीतारमण ने कहा कि मेडिकल ग्रेड ऑक्सीजन, BiPaP मशीन, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स, वेंटिलेटर्स और पल्स ऑक्सीमटर आदि पर लगने वाले जीएसटी को भी घटा दिया गया है। पहले इन पर 12 फीसदी जीएसटी लगता था, जिसे घटाकर अब 5 फीसदी कर दिया गया है।

वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा कि जीएसटी काउंसिल इस बात पर सहमत हुआ है कि कोरोना वैक्सीन पर 5 फीसदी जीएसटी ही लगाया जाएगा। इसमें कोई बदलाव नहीं किया गया है। इसके अलावा एंबुलेंस पर पहले 28 फीसदी जीएसटी वसूला जाता था, जिसे कम कर के अब 12 फीसदी कर दिया गया है।

सीतारण ने कहा कि केंद्र सरकार 75 फीसदी वैक्सीन खरीद रही है और उसपर जीएसटी भी भर रही है। लोगों को सरकारी अस्पतालों में ये जो 75 फीसदी वैक्सीन फ्री में उपलब्ध कराई जा रही है, जनता पर उसका कोई असर नहीं होगा।

साथ ही कोरोना जांच किट पर अब पांच प्रतिशत टैक्स लगेगा। अभी तक इस पर 12 प्रतिशत कर लगता था। इसके अलावा पल्स ऑक्सीमीटर, हैंड सैनिटाइजनर, तापमान जांच उपकरणों जीएसटी की दर को घटाकर पांच प्रतिशत किया गया है। बता दें कि पहले सैनिटाइज़र पर 18 फीसदी जीएसटी लगाया जाता था।

गौरतलब है कि उपर्युक्त वस्तुओं के कीमतों से जीएसटी घटाने पर अब वस्तुओं की कीमत बाजार में वर्तमान समय से कम और सस्ती होगी। जिससे आम लोगों को भी राहत मिलेगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads