Home वायरल प्रेग्नेंसी के 3 हफ्ते बाद ही दोबारा प्रेग्नेंट हुई महिला, फिर जो हुआ…

प्रेग्नेंसी के 3 हफ्ते बाद ही दोबारा प्रेग्नेंट हुई महिला, फिर जो हुआ…

0 second read
0
25

रिपोर्ट- पल्लवी त्रिपाठी

ब्रिटेन : क्या आप सोच सकते हैं कि कभी ऐसा हुआ हो कि तीन हफ्ते की गर्भवती महिला दोबारा प्रेगनेंट हो गयी हो । जीं हां, आपको पढ़कर हैरानी तो जरूर हो रही होगी, लेकिन ऐसा हुआ है । जहां एक महिला प्रेग्नेंसी के तीन हफ्ते के बाद दोबारा प्रेगनेंट हो गयी, जो कि मेडिकल साइंस में एक चमत्कार साबित हुआ ।

सोशल मीडिया पर ब्रिटेन में रहने वाली इस महिला की कहानी खूब सुर्खियां बटोर रही है । दरअसल, ब्रिटेन के रहने वाले रिबेका रॉबर्ट्स और उनके पति राइस वीवर को कई सालों से बच्चा नहीं हो रहा था । उन्होंने बच्चे के लिए कई डॅाक्टरों से कन्सल्ट किया । हालांकि, कई सालों तक उन्हें संतान सुख नहीं मिला । जिसके बाद रिबेका फर्टिलिटी मेडिकेशन पर चली गयी । और फिर एक दिन अचानक रिबेका डॅाक्टर के पास चेकअप के लिए गयी । जहां डॅाक्टर ने उन्हें बताया कि वो प्रेग्नेंट हैं ।

ये सुनते ही रिबेका और उनके पति की खुशी का ठिकाना नहीं रहा । दोनों अपने आने वाले बच्चे के लिए काफी खुश और एक्साइटेड थे । लेकिन गजब तो तब हुआ, जब रिबेका प्रेग्नेंसी के तीन हफ्ते बाद रेगुलर चेकअप के लिए डॅाक्टर के पास गयी । तो चेकअप में कुछ ऐसा सामने आया, जिसने डॅाक्टर को भी हैरानी में डाल दिया । दरअसल, रिबेका दोबारा प्रेग्नेंट हो गयी थी । डॅाक्टर ने जब ये बात उन्हें बतायी, तो रिबेका और उनके पति के भी होश उड़ गए ।

रिबेका इस संबंध में सोशल मीडिया पर लिखती है कि ‘डॉक्टरों के मुंह से ये सुनना कि आपके पेट में दो बच्चे पल रहे हैं, किसी शॉक से कम नहीं था । लेकिन, उसके बाद मैं और भी ज्यादा शॉक्ड तब हो गई, जब डॉक्टरों ने कहा कि दोनों बच्चों में तीन हफ्ते का अंतर है और ऐसा कैसे हुआ है, ये डॉक्टरों को भी समझ नहीं आ रहा है ।’

डॅाक्टर ने रिबेका के इस केस पर काफी रिसर्च की । लेकिन कोई नतीजा नहीं निकाल पाए और ये कहकर रह गए कि ये एक मेडिकल एग्जाम्पल है । एबीसी न्यूज की रिपोर्ट की मानें तो इसके बाद रिबेका की प्रेगनेंसी का अलग तरीके से इलाज किया गया, क्योंकि यहां एक साथ गर्भ में दो बच्चे पल रहे थे और दोनों में तीन हफ्ते का अंतर था, लिहाजा गर्भ के अंदर दोनों बच्चों का विकास में भी 3 हफ्ते का अंतर लगना था। जिसकी वजह से कोई भी दवाई दोनों बच्चों को एकसाथ ध्यान में रखकर ही दी जानी थी।

काफी रिसर्च के बावजूद दोनों बच्चों का एक साथ इलाज असंभव था । जिसके बाद डॅाक्टरों ने हार मान ली और कह दिया कि वो छोटे बच्चे को नहीं बचा पाएंगे । लेकिन कुदरत का करिश्मा देखिए कि यहां भी मेडिकल साइंस को पीछे छोड़ते हुए रिबेका ने दोनों बच्चों को जन्म दिया और दोनों आज सकुशल है । हालांकि, 3 हफ्ते छोटी बच्ची को 95 दिनों के लिए एनआईसीयू में रखा गया ।

रिबेका लिखती हैं कि ‘ये दोनों कोई साधारण बच्चे नहीं हैं, बल्कि इन्होंने असाधारण परिस्थितियों में जन्म लिया है और हर दिन अपने दोनों बच्चों को देखने के बाद मैं यही सोचती हूं कि मैं कितनी भाग्यशाली हूं।’

Load More In वायरल
Comments are closed.