1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. चंडीगढ़ में आम आदमी पार्टी की जीत, पंजाब में आने वाले बदलाव का संकेत- अरविंद केजरीवाल

चंडीगढ़ में आम आदमी पार्टी की जीत, पंजाब में आने वाले बदलाव का संकेत- अरविंद केजरीवाल

चंड़ीगढ़ नगर निगम के चुनाव में आम आदमी पार्टी ने आज ऐतिहासिक जीत दर्ज कर सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। आम आदमी पार्टी पहली बार चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव में उतरी थी और भाजपा के गढ़ रहे चंडीगढ़ नगर निगम की 14 वार्डों में जीत दर्ज की।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्ली: चंड़ीगढ़ नगर निगम के चुनाव में आम आदमी पार्टी ने आज ऐतिहासिक जीत दर्ज कर सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। आम आदमी पार्टी पहली बार चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव में उतरी थी और भाजपा के गढ़ रहे चंडीगढ़ नगर निगम की 14 वार्डों में जीत दर्ज की। इस ऐतिहासिक जीत पर खुशी व्यक्त करते हुए आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पार्टी के सभी विजयी उत्मीदवारों और कार्यकर्ताओं को बधाई देते हुए कहा कि चंडीगढ़ में आम आदमी पार्टी की यह जीत पंजाब में आने वाले बदलाव का संकेत है। चंडीगढ़ के लोगों ने आज भ्रष्ट राजनीति को नकारते हुए ‘आप’ की ईमानदार राजनीति को चुना है। वहीं, दिल्ली के डिप्टी सीएम एवं ‘आप’ के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया ने कहा कि यह जीत संकेत है कि अगर विकल्प हो, तो लोग ‘ईमानदारी और काम करने वाली राजनीति’ को मौक़ा देना चाहते हैं। वहीं, आम आदमी पार्टी अब राष्ट्रीय स्तर पर भी एक विकल्प बन कर उभरी है। दूसरी तरफ, सोशल मीडिया पर चर्चा है कि चंडीगढ़ के बाद दिल्ली एमसीडी में भी आम आदमी पार्टी का परचम लहराएगा। ‘आप’ के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि चंडीगढ़ नगर निगम से चली जीत की यह लहर दिल्ली नगर निगम तक पहुंचेगी।

भारतीय जनता पार्टी के गढ़ रहे चंडीगढ़ नगर निगम के कुल 35 वार्डों में बीते 24 दिसंबर को मतदान हुआ था। वर्तमान में चंडीगढ़ नगर निगम में भाजपा की ही सरकार थी। इस चुनाव में आम आदमी पार्टी पहली बार मैदान में उतरी थी। आम आदमी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने इस चुनाव में ऐतिहासिक प्रदर्शन करने के लिए दिन-रात मेहनत की। गत 19 दिसंबर को ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने चंडीगढ़ में एक जनसभा को संबोधित कर वहां की जनता से आम आदमी पार्टी की ईमानदार राजनीति को एक मौका देने का आह्वान किए थे। चंडीगढ़ की जनता ने ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल और उनकी ईमानदार राजनीति पर मुहर लगाने का निर्णय लिया और चंड़ीगढ़ नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी को 14 वार्डों में ऐतिहासिक जीत दिला दी। भाजपा के भ्रष्टचार से परेशान जनता ने उसके मेयर तक को हरा दिया। चंडीगढ़ नगर निगम में इस जीत से साफ है कि इस बार पंजाब बदलाव चाहता है।

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने चंडीगढ़ नगर निगम के चुनाव में मिली ऐतिहासिक जीत पर खुशी व्यक्त की है। ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘चंडीगढ़ नगर निगम में आम आदमी पार्टी की यह जीत पंजाब में आने वाले बदलाव का संकेत है। चंडीगढ़ के लोगों ने आज भ्रष्ट राजनीति को नकारते हुए ‘आप’ की ईमानदार राजनीति को चुना है। ‘आप’ के सभी विजयी उम्मीदवारों एवं सभी कार्यकर्ताओं को बहुत-बहुत बधाई। इस बार पंजाब बदलाव के लिए तैयार है।’’

वहीं, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री एवं आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, ‘‘चंडीगढ़ के लोगों ने आज अरविंद केजरीवाल जी की राजनीति में और उनके नेतृत्व में भरोसा जताया है। इसके लिए चंडीगढ़ के एक-एक वोटर का तहेदिल से शुक्रिया। यह जीत संकेत है कि अगर विकल्प हो, तो लोग ‘ईमानदारी और काम करने वाली राजनीति’ को मौक़ा देना चाहते हैं।’’

राष्ट्रीय स्तर पर भी अब एक विकल्प बन कर उभरी आम आदमी पार्टी

‘आप’ संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ईमानदार राजनीति से पूरे देश के लोग प्रभावित हैं। सीएम अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली में शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, पानी और महिला सुरक्षा समेत सभी क्षेत्रों में ऐतिहासिक कार्य हुए हैं, जिसकी चर्चा अपने देश के अलावा विदेशों में भी हो रही है। परिणाम स्वरूप देश भर में आम आदमी पार्टी की स्वीकार्यता तेजी से बढ़ी है। चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी ने उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर और गोवा में भी स्थानीय निकाय व पंचायत चुनाव लड़ा और पार्टी को सभी जगहों पर जनता का खूब प्यार मिला। उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनाव में आम आदमी पार्टी ने जिला पंचायत सदस्य की 83 से अधिक सीटें जीती, जबकि ग्राम पंचायत की 300 और क्षेत्र पंचायत सदस्य की 232 से अधिक जगहों पर जीत दर्ज की। वहीं, भाजपा के गढ़ गुजरात में सूरत नगर निगम के चुनाव में आम आदमी पार्टी ने धमाकेदार इंट्री करते हुए 18 सीटों पर कज्बा किया। इसी तरह, महाराष्ट्र में हुए ग्राम पंचायत चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 300 सीटों में से 145 पर जीत दर्ज की। हिमाचल प्रदेश में संपन्न हुए पंचायत चुनाव में ‘आप’ ने 40 प्रत्याशी मैदान में उतारे थे और 36 सीटों पर ऐतिहासिक जीत दर्ज की। वहीं, आम आदमी पार्टी, जम्मू-कश्मीर में जिला विकास काउंसिल सदस्य की एक सीट जीती है और गोवा में भी जिला पंचायत सदस्य की एक सीट जीती है।

चंडीगढ़ के बाद दिल्ली एमसीडी में भी लहराएगा आम आदमी पार्टी का परचम

चंडीगढ़ नगर निगम में आम आदमी पार्टी को मिली ऐतिहासिक जीत के बाद सोशल मीडिया पर दिल्ली नगर निगम चुनाव भी सुर्खियों में है। सोशल मीडिया पर अगले कुछ महीने में होने वाले दिल्ली नगर निगम के चुनाव को लेकर चर्चाएं तेज हो गई हैं। सोशल मीडिया पर चर्चा चल रही है कि चंडीगढ़ के बाद दिल्ली एमसीडी पर भी आम आदमी पार्टी का चरचम लहराएगा। सोशल मीडिया पर बड़ी संख्या में लोग चंडीगढ़ में हुई जीत पर आम आदमी पार्टी को बधाई दे रहे हैं। इस संबंध में आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक का कहना है कि चंडीगढ़ नगर निगम से चली जीत की यह लहर दिल्ली नगर निगम तक पहुंचेगी। उन्होंने कहा कि दिल्ली की जनता एमसीडी में बैठी भाजपा के भ्रष्टचार से परेशान हो चुकी है। अब दिल्ली की जनता एमसीडी में भी आम आदमी पार्टी की सरकार चाहती है और इस बार के चुनाव में दिल्ली की जनता भाजपा को एमसीडी से उखाड़ फेंकेगी।

दिल्ली पार्टी दफ्तर पर भी कार्यकर्ताओं ने मनाया जीत का जश्न

आम आदमी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय पर भी चंडीगढ़ नगर निगम में धमाकेदार जीत का जश्न मनाया। पार्टी मुख्यालय पर सुबह से ही कार्यकर्ता जुटने शुरू हो गए थे। जैसे-जैसे मतगणना आगे बढ़ती गई और आम आदमी पार्टी के उम्मीदवारों की जीत सुनिश्चित हो गई, वैसे-वैसे पार्टी कार्यालय पर कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ जमा होती गई। पार्टी मुख्यालय में ढोल-नगाड़े की थाप पर कार्यकर्ता जमकर झूमे और खुशी का इजहार किए। कार्यकर्ताओं ने इस जीत पर एक-दूसरे को बधाई दी और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के कुशल निर्देशन में दिल्ली एमसीडी में भी अब आम आदमी पार्टी की सरकार बनने की पूरी उम्मीद जताई।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...