Home Breaking News रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिये सीएमओ के पैरों मे गिरकर गिड़गड़ाती रही मां, इकलौते बेटे ने तोड़ा दम

रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिये सीएमओ के पैरों मे गिरकर गिड़गड़ाती रही मां, इकलौते बेटे ने तोड़ा दम

1 second read
2
6

रिपोर्ट – माया सिंह

नोएडा :  कोरोना वायरस के दूसरी लहर ने पूरी देश में कोहराम मचा रखा है । रोजाना कोरोना संक्रमण से मरने वालों की तदाद बढ़ते ही जा रहा है । आलम यह है कि अस्पतालों में रेमडेसिविर इंजेक्शन और जरूरी दवाईयों की कमी हो गई है । इसी बीच उत्तर प्रदेश के नोएडा से एक  ऐसी तस्वीर सामने आई है जिसे देख आपकी रूह कांप उठेगी । एक बेबस महिला सीएमओ के पैरों में गिरकर अपने इकलौते बेटे की जान की भीख मांगते नजर आ रही है । अब यह तस्वीर सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है । जिसने भी यह तस्वीर देखी , खुद को भावुक होने से रोक नहीं पाये ।

दरअसल , नोएडा की खोड़ा कॉलोनी की रहने वाली रिंकी देवी का इकलौता बेटा कोरोना का शिकार हो  गया था । जब बेटे की अचानक तबीयत खराब हो गयी तो उन्होने सेक्टर -51 स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया । इलाज के दौरान डॉक्टर  ने महिला को यह कहते हुए पर्ची थमा दिया कि रेमडेसिविर इंजेक्शन की जरूरत है ।

कहा जाता है कि मां ममता की मूरत होती है आखिर बेटे को जिंदगी और मौत से लड़ते हुये देख खुद शांत कैसे बैठ सकती थी । कहीं से पता चला कि रेमडेसिविर इंजेक्शन सीएमओ ऑफिस में मिलेगा । फिर क्या था मां भागकर सीएमओ ऑफिस पहुंच गई ।

ऑफिस के बाहर घंटों इंतजार करने के बाद भी कोई मदद नहीं मिली । इसके बाद अचानक से रिंकी को सीएमओ डॉ दीपक ओहरी दिखे । उनको देखते ही रिंकी झट से सीएमओ के पैरो में गिर गई और कहने लगी कि रेमडेसिविर इंजेक्शऩ से मेरे बेटे की जिंदगी बचा लें ।

अफसोस कि बात है कि इतनी मिन्नतें करने के बावजूद सीएमओ साहब कठोर बनकर देखते रहे । वहीं चिकित्सा ऑफिसर ने पर्ची देखने के बाद भी यह कहकर आसानी से मना कर दिया कि इंजेक्शन की कमी हो गई है ।

लेकिन मां तो मां होती है इतनी निऱाशा झेलने के बाद भी दफ्तर के दहलीज पर मदद के आश में शाम 4:00 बजे तक इंतजार करती रही लेकिन इंजेक्शन नसीब नहीं हुआ । आखिरकार खाली हाथ शाम साढ़े चार बजे अस्पताल पहुंची तो 24 साल का जवान बेटा दम तोड़ चुका था ।

इतना ही नहीं सीएमओ दफ्तर की एक और वीडियो सोशल मीडिया पर छाया हुआ है , जिसमें महिलाओं को जेल भेजने की धमकी दी जा रही है जो बार-बार रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिये सीएमओ ऑफिस पहुंच रही है। बता दें की कोरोना के कहर से नोएडा बेहाल है लेकिन डीएम के अलावा कोई भी अधिकारी एक्टिव नजर नहीं आ रहा ऐसा लोगों का कहना है।

Load More In Breaking News
Comments are closed.