Home जरूर पढ़े शनि देव से नजर मिलाने पर क्‍यों होता है अनिष्‍ट, यहां जानिए वजह

शनि देव से नजर मिलाने पर क्‍यों होता है अनिष्‍ट, यहां जानिए वजह

7 second read
0
221

नई दिल्‍ली: शनि देव (Shani Dev) शक्तिशाली ग्रह हैं। ज्‍योतिष (Astrology) में इनका बहुत महत्‍व है क्‍योंकि इनकी कृपा से जहां वारे-न्‍यारे हो जाते हैं, वहीं इनका प्रकोप बहुत भारी पड़ जाता है। इतने अहम ग्रह होने के बाद भी लोग इनकी पूजा हमेशा मंदिर में जाकर ही करते हैं, कभी भी शनि देव की मूर्ति या फोटो घर में नहीं रखी जाती है। इतना ही नहीं उनकी पूजा करते समय उनसे दृष्टि (Eye Contact) भी नहीं मिलाई जाती है। इसके पीछे एक खास वजह है और वो है उनकी पत्‍नी द्वारा दिया गया एक श्राप।

शनि की दृष्टि से होता है अनिष्‍ट

धार्मिक पुराणों और ज्‍योतिष शास्‍त्र के मुताबिक शनिदेव को ये श्राप है कि वे जिस पर भी अपनी दृष्टि डालेंगे, उसका अनिष्ट हो जाएगा। उनकी दृष्टि से बचे रहने के लिए ही लोग ना तो उनकी मूर्ति घर पर रखते हैं और ना पूजा करते समय उनसे दृष्टि मिलाते हैं। यहां तक कि शनि देव के दर्शन-प्रार्थना करते समय भी उनके एकदम सामने खड़े होने से भी मना किया गया है।

पत्नी ने दिया था श्राप

शनि से दृष्टि न मिलाने को लेकर एक पौराणिक कथा है। इसके मुताबिक एक बार शनिदेव भक्ति में लीन थे। तभी उनकी पत्‍नी संतान प्राप्ति की इच्‍छा लेकर उनके पास आईं लेकिन शनिदेव ध्यान में इतने मग्न थे कि उन्‍होंने पत्‍नी की तरफ देखा भी नहीं। इस बात पर उनकी पत्‍नी बहुत क्रोधित हुईं और उन्होंने शनिदेव को श्राप दे दिया कि यदि तुम अपनी प​त्‍नी को नहीं देख सकते तो तुम्हारी दृष्टि वक्री हो जाएगी। अब ये जिस पर भी पड़ेगी, उसका अनिष्ट हो जाएगा। यहां तक कि भगवान गणेश (Lord Ganesha) की गर्दन कटने और उनके गजानन बनने के पीछे की वजह भी उन पर शनि देव की दृष्टि पड़ना ही बताया जाता है।

Share Now
Load More In जरूर पढ़े
Comments are closed.