Home उत्तराखंड उत्तराखंड: भारी बर्फबारी के कारण कई गांवों में जनजीवन हुआ बेहाल

उत्तराखंड: भारी बर्फबारी के कारण कई गांवों में जनजीवन हुआ बेहाल

3 second read
0
74

उत्तराखंड में भारी बर्फबारी से टिहरी शहर के अधिकांश लिंक मार्ग बंद है जिससे वाहनों की आवाजाही नहीं हो पा रही है। इसके अलावा टिहरी में तीन हाईवे सहित 24 मोटर मार्ग बंद पड़े हैं। टिहरी चंबा राष्ट्रीय राजमार्ग बर्फ़बारी के बाद पाले के कारण बंद पड़ा है , इसके आलाव बिजली लाइनें क्षतिग्रस्त होने और शहर के तीन ट्रांसफर जल जाने से जिले में बिजली आपूर्ति ठप है।

टिहरी में 50, रुद्रप्रयाग में 60, चमोली में 160 गांव में सप्लाई ठप है। उधर, कुमाऊं मंडल में रातापानी से कालामुनि के बीच भी भारी बर्फबारी के कारण दिक्कतें पेश आ रही हैं। मुनस्यारी के बिटलीधार में तीन दिन से बर्फ के बीच फंसे एक ट्रक चालक को प्रशासन और पुलिस की टीम ने सुरक्षित निकाल लिया है।

लगातार दो दिन हुई बारिश और भारी बर्फबारी से मसूरी समेत आसपास के इलाकों में जन जीवन पटरी से उतरा हुआ है। मसूरी-धनोल्टी मार्ग भारी बर्फबारी के कारण तीन दिन से अवरुद्ध है, जिसके चलते करीब 20 पर्यटक धनोल्टी से वापस नहीं लौट पा रहे हैं। उधर, मसूरी-चकराता-त्यूणी मार्ग भी कई स्थानों पर बंद है। प्रशासन और विभाग सड़क मार्ग खोलने में जुटे हुए हैं। जिले की कुल 15 सड़कें अभी भी बंद है और 153 गांव बर्फबारी से प्रभावित हैं ।

वही पिछले 5 दिन से जारी बारिश और बर्फबारी तो थम चुकी है, लेकिन स्थानीय लोगों की मुसीबतें कम नहीं हुई बात कुमाऊं की करें तो कुमाऊं के पिथौरागढ़ जिले में बर्फ से पटे नामिक गांव को जाने वाले दोनों रास्ते बंद होने से 124 परिवार गांव में कैद हो गए हैं। बिजली आपूर्ति भी 2 दिन से बाधित है। पिथौरागढ़ जिले में थल मुनस्यारी सड़क सातवें दिन भी नहीं खुली।

Share Now
Load More In उत्तराखंड
Comments are closed.