Home उत्तराखंड विकासनगर बाजार में सफाई व्यवस्था चौपट, कूड़ा बना मुसीबत; शाम के समय व्यापारी खुद जला रहे कूड़ा

विकासनगर बाजार में सफाई व्यवस्था चौपट, कूड़ा बना मुसीबत; शाम के समय व्यापारी खुद जला रहे कूड़ा

0 second read
0
4

विकासनगर:  दीपावली पर बाजार में चल रही भीड़ से नगर की सफाई व्यवस्था चौपट होकर रह गई है। दुकानों व अन्य व्यापारिक प्रतिष्ठानों से निकलने वाला कूड़ा भारी मात्रा में सड़कों पर इकट्ठा हो रहा है। जिसके कारण बाजार आने वाले ग्राहकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उधर, कूड़े की समस्या से निपटने के लिए दुकानदार खुद ही बाजार बंद होने के बाद कूड़े को जला रहे हैं।

दीपावली की खरीदारी से बाजार में भारी मात्रा में प्लास्टिक, पॉलीथीन व कागज आदि का कचरा एकत्र हो रहा है। अत्यधिक भीड़ के कारण नगर पालिका की सफाई की व्यवस्था भी चरमरा गई है। कचरा अधिक होने के कारण बाजार आने वाले ग्राहकों को भी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। बाजार बंद होने के बाद व्यापारी कूड़े को कम करने के लिए उसे जला रहे हैं। नगर पालिका की अध्यक्ष शांति जुंवाठा का कहना है कि बाजार क्षेत्र में सफाई पर पालिका का पूरा ध्यान है।

प्रत्येक दिन सुबह के समय पूरे बाजार की व्यापक स्तर पर सफाई की जा रही है। इसके अलावा शाम के समय भी छोटे वाहन की मदद से कूड़ा उठाने का कार्य किया जा रहा है। ऐसे में व्यापारियों को कूड़े को जलाना नहीं चाहिए। यदि कोई व्यक्ति कूड़ा जलाता है तो उसके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

जीवनगढ़ में ग्राम समाज की भूमि पर कब्जे की शिकायत जिलाधिकारी से की गई है। ग्राम पंचायत के उप प्रधान आसिफ अली ने जिलाधिकारी को दी शिकायत में कहा है, चकराता मार्ग पर स्थित पंचायत की भूमि पर गांव के ही कुछ निवासी अवैध रूप से कब्जा कर रहे हैं। इस जमीन पर कुछ समय पहले तक दुकानें व पंचायत घर बना हुआ था।

ग्राम पंचायत ने पंचायत घर को पशुपालन विभाग को किराए पर दिया हुआ था।  उन्होंने आरोप लगाया है कि जमीन पर अवैध रुप से कब्जे का प्रयास कर रहे ग्रामीणों ने पंचायती दुकानों को तोड़ दिया है। इसके साथ ही वह अब पंचायत घर को भी तोडऩे का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने पंचायत की जमीन पर किए जा रहे कब्जे के प्रयास को रोकने की मांग जिलाधिकारी से की है।

Load More In उत्तराखंड
Comments are closed.