Home क्राइम बस ने मारी इतनी जोरदार टक्कर की पति-पत्नी और बच्चों के उड़े चीथड़े, सड़क पर चिपक गए थे शवों के टुकड़े

बस ने मारी इतनी जोरदार टक्कर की पति-पत्नी और बच्चों के उड़े चीथड़े, सड़क पर चिपक गए थे शवों के टुकड़े

4 second read
0
1,035

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नागौर: मंगलवार को राजस्थान के नागौर जिले में एक ऐसा सड़क हादसा हुआ जिसे जानकर आपके रोंगटे खड़े हो जायेंगे। तेज रफ्तार बस ने एक सड़क किनारे खड़े बाइक सवार परिवार को टक्कर मार दी। टक्कर इतना जोरदार था कि दंपत्ति के चीथड़े उड़ गये।

आपको बता दें कि पति-पत्नी और उनके दो बच्चों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। देखते ही देखते पूरा परिवार खत्म हो गया। मृतकों के शवों के चिथड़े उड़ गए और टुकड़े हाइवे पर चिपक गए। यह घटना शाम को नागौर के खुनखुना इलाके में हुआ। कुचामन सिटी की तरफ जाने वाले स्टेट हाईवे पर तेज रफ्तार बस ने सड़क किनारे बाइक के साथ खड़े एक परिवार को टक्कर मार दी।

घटना के एक दिन बाद बुधवार को मृतकों के परिजन आक्रोशित होकर तोषीणा-कुचामन हाईवे पर पत्थर व लकड़ियां डालकर धरने पर बैठ गए। पुलिस की काफी समझाने के बाद ग्रामीण शांत हुए और अंतिम संस्कार करने के लिए राजी हुए। चश्मदीदों की मानें तो टक्कर के बाद बस करीब 200 फीट तक सभी को घसीटते हुए ले गई।

मासूम बच्चों के शव के कई टुकड़े में होकर क्षत-विक्षत हो गये थे, किसी की खोपड़ी बची थी तो किसी की धड़ से अलग थी। टक्कर मारने के बाद बस का चालक कूदकर फरार हो गया। बताया जाता है कि बस की रफ्तार 100 से 110 किमी प्रति घंटा थी। जिसने कंकड़-पत्थर की तरह पूरे परिवार को रौंद डाला।

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस को समझ ही नहीं आ रहा था कि मृतकों के शवों को कैसे उठाए और कैसे पोस्टमॉटम के लिए भेजे। आपको बता दें कि शवों के चिथड़े  छोटे-छोटे टुकड़ों में बंटकर हाईवे से चिपक हुये थे। काफी सोच विचार के बाद पुलिस ने शवों के चीथड़े को चुन-चुन कर पॉलिथीन में भरना पड़ा।

आपको बता दें कि हादसे में अपनी जान गंवाने वाले मृतकों की पहचान बजरंगलाल बनबागरिया (25) उसकी पत्नी तारू देवी (20), खातरिया (ढाई साल) और 9 माह के रुप में हुई। मिली जानकारी को मुताबिर परिवार बाइक को साइड में खड़ी कर पंप पर पेट्रोल लेने के लिए गया हुआ था। इसी दौरान सामने से आ रही बस ने उनको रौंद डाला।

 

Load More In क्राइम
Comments are closed.