Home ताजा खबर कोरोना महामारी के बीच देश में अब एक नया संकट, पढ़े

कोरोना महामारी के बीच देश में अब एक नया संकट, पढ़े

2 second read
0
13

कोरोना महामारी के बीच देश में अब एक नया संकट, पढ़े

एक तरफ देश कोरोना महामारी से निजात पाने के लिए लगातार कोशिशें कर रहा है। वहीं दूसरी तरफ देश में अब एक नया संकट खड़ा हो गया है। कई राज्यों में परिंदों के लगातार मरने से बर्ड फ्लू का खतरा बढ़ गया है।

राजस्थान, केरल, मध्य प्रदेश, गुजरात, हिमाचल प्रदेश और केरल में हजारों पक्षियों की मौत ने चिंताएं बढ़ा दी हैं, जिसको लेकर राज्यों में अलर्ट जारी कर दिया गया है।

कई राज्यों में पक्षियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि

एक ओर कोरोना महामारी से निजात पाने के लिए देश में कोविड-19 वैक्सीनेशन पर चर्चा की जा रही है, वहीं दूसरी ओर इस नए वायरस से स्वास्थ्य विभाग को सोच में डाल दिया है। चिंता की बात यह है कि दोनों वायरस के लक्षण काफी हद तक मिलते-जुलते हैं। खैरियत है कि अब तक पक्षियों से इंसान तक ये संक्रमण नहीं पहुंचा है।

कुछ जगहों पर पक्षियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। इनमें से हिमाचल प्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान और केरल में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है, जबकि हरियाणा और गुजरात के सैंपल की रिपोर्ट आना बाकी है।

इसके मद्देनजर कई राज्यों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। पोल्ट्री फार्म, जलाशयों और प्रवासी पक्षियों पर विशेष निगरानी रखने के लिए निर्देश दिए गए हैं। साथ ही संक्रमण फैलने वाली जगहों पर मांस बेचने पर भी प्रतिबंध लगाया जा रहा है।

हरियाणा में 70 हजार से अधिक मुर्गियों की मौत

प्रदेश के पंचकूला के बरवाला के रायपुररानी क्षेत्र में पिछले दो दिन में दो फार्म में ही 70 हजार से ज्यादा मुर्गियों की मौत हो चुकी है। फार्मों से लिए गए मृत मुर्गियों के सैंपल की जांच रिपोर्ट अब तक नहीं आई है।

हिमाचल में अब तक 2000 से ज्यादा परिंदों की मौत

हिमाचल प्रदेश के पौंग डैम वेटलैंड में मृतक पक्षियों का संख्या 2000 से अधिक हो चुकी है। बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के बाद पौंग डैम के आसपास एक किलोमीटर के एरिया को रेड जोन और नौ किलोमीटर के एरिया को सर्विलांस जोन बनाया गया है। 28 दिसंबर 2020 को यहां पहला मामला सामने आया था।

मध्य प्रदेश के बर्ड फ्लू की पुष्टि, पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी

मध्य प्रदेश में अब तक 200 से ज्यादा पक्षियों की मौत हुई है। इंदौर, मंदसौर, उज्जैन, देवास, नीमच, आगर, खरगोन और सीहोर में काफी कौए मृत पाए गए हैं। इनमें से इंदौर और मंदसौर की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, जिसके बाद प्रदेश के सभी जिलों को अलर्ट किया गया है।

राजस्थान में 500 से ज्यादा पक्षियों की मौत

राजस्थान में भी बर्ड फ्लू का खतरा तेजी से बढ़ रहा है। अब तक 471 कौओं समेत 500 से अधिक पक्षियों की मौत हो गई है। सोमवार को छह जिलों में 140 कौओं की मौत हुई। हालांकि, पशुपालन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक, राजस्थान में बर्ड फ्लू से हुई मौतों में कम पावर का स्ट्रेन पाया गया है, जो कम घातक है।

केरल में 50 हजार बत्तखों को मारने का आदेश

बर्ड फ्लू की वजह से केरल में राज्य में बर्ड फ्लू से करीब 12 हजार बत्तखों की मौत हो चुकी है। केरल के अलप्पुझा और कोट्टायम जिलों में बर्ड फ्लू के पॉजिटिव केस मिले हैं, जिसके बाद यहां 50 हजार बत्तखों को मारने का आदेश दिया गया है। राज्य के वन, पशुपालन मंत्री के. राजू ने कहा, ‘जहां संक्रमण का पता चलेगा, वहां करीब 1 किलोमीटर के दायरे में सभी पक्षियों को मार दिया जाएगा।

गुजरात में 50 से अधिक पक्षियों की मौत

2 जनवरी को जूनागढ़ जिले के बांटवा गांव में बतख-टिटहरी-बगुला समेत 50 से अधिक पक्षी मृत पाए गए थे, जिनकी जांच की जा रही है। गुजरात के प्रिंसिपल चीफ कंजर्वेटर ऑफ फॉरेस्ट वाइल्ड लाइफ श्यामल टीकादार ने बताया कि बर्ड फ्लू की आशंका है, इसलिए अलर्ट किया गया है।

बता दें कि बर्ड फ्लू के मामले दिसंबर 2020 में जापान, साउथ कोरिया, वियतनाम और चार यूरोपीय देशों में सामने आने शुरू हुए थे और अब ये भारत के कई राज्यों में अपना आतंक फैला रहा है।

कोरोना जैसे ही बर्ड फ्लू के लक्षण

बर्ड फ्लू के संक्रमण में कफ़, सांस से जुड़ी दिक्कत, सिर दर्द, डायरिया, बुखार, पेशियों में दर्द, गले में खराश, नाक बहना और बेचैनी जैसी समस्या हो सकती हैं। ऐसा होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

बचाव के उपाए

मरे पक्षियों के पास बिल्कुल भी न जाएं और संक्रमित पक्षियों से दूर रहें। नॉनवेज का सेवन न करें। संक्रमण वाले इलाकों में न जाएं।

Load More In ताजा खबर
Comments are closed.