Home उत्तराखंड नगर निगम हुआ उद्योगपति पर मेहरबान,गंगा पर अतिक्रमण की दे डाली परमिशन

नगर निगम हुआ उद्योगपति पर मेहरबान,गंगा पर अतिक्रमण की दे डाली परमिशन

1 second read
0
38

एनजीटी के मानकों को ताक पर रखकर आस्था पथ में उद्योगपति द्वारा अपने होटल के पास गंगा नदी पर अतिक्रमण किया जा रहा है। जानकारी के अनुसार नगर निगम प्रशासन द्वारा गंगा नदी पर अतिक्रमण की परमिशन दी गई है। जिसको लेकर ऋषिकेश की कांग्रेस कमेटी ऋषिकेश नगर आयुक्त के पास शिकायत लेकर पहुंचे।

बता दें कि एनजीटी के मानकों के आधार पर गंगा नदी पर अतिक्रमण नहीं किया जा सकता है। गंगा की स्वच्छता को धन उगाही और व्यावसायिक व औद्योगिक धंधे के भेंट नहीं चढ़ाया जा सकता है। यहां तक कि कोई व्यक्ति भी यदि गंगा को प्रदूषित करता है तो उसे कानून के अधीन दंडित किया जाना चाहिए। यही मॉडल देश की समूची नदियों के लिए लागू होना चाहिए। लेकिन ऋषिकेश में एक उद्योगपति द्वारा आस्था पथ के किनारे गंगा नदी के ऊपर अतिक्रमण का कार्य चल रहा है। शहर में फैली सूचना से पता लगा कि नगर निगम द्वारा उद्योगपति के यहां एक दिवसीय कार्यक्रम के लिए परमिशन मांगी गई है।

लेकिन एक दिवसीय परमिशन की आड़ पर वहां स्थाई रूप से नदी पर अतिक्रमण हो रहा है। जिसको लेकर ऋषिकेश की कांग्रेस कमेटी शिकायत पत्र के साथ नगर निगम पहुंची और नगर आयुक्त को शिकायत पत्र सौंपा। शिकायत मिलने के बाद नगर आयुक्त ने बताया कि उनके द्वारा कोई भी परमिशन नहीं दी गई है और वह स्वयं मौके पर जाकर मुआयना करेंगे।

(अमित सिंह कंडियाल)

Share Now
Load More In उत्तराखंड
Comments are closed.