Home दिल्ली कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर व्यापारी संगठनों ने बढ़ाया अपना बंद, सरकार से की लॉकडाउन बढ़ाने की अपील

कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर व्यापारी संगठनों ने बढ़ाया अपना बंद, सरकार से की लॉकडाउन बढ़ाने की अपील

0 second read
0
20

नई दिल्ली : कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को लेकर कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स के तहत आने वाले व्यापारी संगठनों ने दिल्ली में अगले 1 हफ्ते के लिए और बाजार बंद रखने का फैसला किया है। जिससे अब देश की राजधानी दिल्ली में 26 मई से 2 मई तक बाजार बंद रहेंगे। इसके साथ ही व्यापारी संगठनों ने सरकार से भी अपील की है कि लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए फिलहाल 1 हफ्ते का और लॉकडाउन बढ़ाया जाए।

आपको बता दें कि कोरोना संकट को देखते हुए दिल्ली के 100 से अधिक प्रमुख व्यापारी संगठनों ने स्वैच्छिक लॉक डाउन का निर्णय लिया है। व्यापारी संगठन की बैठक में ये तय किया गया की अगर दिल्ली सरकार कैट के आग्रह को स्वीकार करते हुए लॉकडाउन को आगे बढ़ाती है तो यह सरकार का एक अच्छा कदम होगा। लेकिन अगर सरकार किसी कारण से लॉकडाउन नहीं बढ़ाती है तो दिल्ली के व्यापारी संगठन बिना किसी दबाव के अपनी मर्ज़ी से स्वैच्छिक रूप से सोमवार 26 अप्रैल से 2 मई तक अपने बाज़ार बंद रखेंगे।

बता दें कि इससे पहले कल ही कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स ने दिल्ली के उपराजयपाल अनिल बैजल और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को एक पत्र भेजकर दिल्ली में लॉक डाउन को आगे बढ़ाने का आग्रह किया है। इसके साथ ही कैट ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन से आग्रह किया है की वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए मेडिकल ऑक्सीजन को जीएसटी से कर मुक्त किया जाए। वहीं केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पियूष गोयल से भी अपील की है कि ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर पर कस्टम ड्यूटी एवं मेडिकल सेस को फिलहाल कुछ अवधि के लिए समाप्त किया जाए जिससे अधिक से अधिक ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर का आयात हो सके, इससे देश में ऑक्सीजन की मांग को काफी हद तक कम करने में मदद मिलेगी।

आपको बता दें कि कोरोना संक्रमण को लेकर दिल्ली सरकार ने फिलहाल 1 हफ्ते का कर्फ्यू लगाया था, जो सोमवार सुबह 6 बजे खत्म हो रहा है। लेकिन जिस तरह के दिल्ली के हालात है उनको देखते हुए अब कई तबकों से यही मांग उठ रही है कि सरकार अपने इस फैसले को कम से कम 1 हफ्ते की और आगे बढ़ाएं जिससे कि कोरोना के बढ़ते मामलों पर रोक लगाने में कुछ मदद मिल सके।

Load More In दिल्ली
Comments are closed.