1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. जामिया को एमजीएनसीआरई, शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार से ‘स्वच्छता एक्शन प्लान इंस्टिट्यूट’ सम्मान

जामिया को एमजीएनसीआरई, शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार से ‘स्वच्छता एक्शन प्लान इंस्टिट्यूट’ सम्मान

जामिया मिल्लिया इस्लामिया (नैक द्वारा A++ प्रत्यायित संस्थान) के लिए यह बहुत गर्व की बात है कि इसे महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद (एमजीएनसीआरई), उच्चतर शिक्षा विभाग, शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा 'स्वच्छता एक्शन प्लान इंस्टिट्यूट' के रूप में सम्मानित किया गया है।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्ली: जामिया मिल्लिया इस्लामिया (नैक द्वारा A++ प्रत्यायित संस्थान) के लिए यह बहुत गर्व की बात है कि इसे महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद (एमजीएनसीआरई), उच्चतर शिक्षा विभाग, शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा ‘स्वच्छता एक्शन प्लान इंस्टिट्यूट’ के रूप में सम्मानित किया गया है।

जामिया को दिए गए प्रमाण पत्र में कहा गया है कि संस्थान ने स्वच्छता कार्य योजना समिति का तथा पोस्ट कोविड-19 में स्वच्छता एवं स्वास्थ्य-रक्षा, अपशिष्ट प्रबंधन, जल प्रबंधन और हरियाली के संदर्भ में पर्यावरण संबंधी दो दिवसीय अवलोकन के साथ संकाय, छात्र और समुदाय को; स्वच्छता एवं न्यूनन, पुन:उपयोग एवं पुनर्चक्रण के तरीके को समझाने वाले कार्य समूहों का सफलतापूर्वक गठन किया है ।

जामिया की कुलपति प्रो. नजमा अख्तर ने कहा कि यह सम्मान पर्यावरण की रक्षा के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाता है। यह सामाजिक रूप से जागरूक बनने के लिए सतत विकास लक्ष्यों की दृष्टि के प्रति हमारी गंभीरता को भी बताता है साथ ही स्वच्छता मिशन, प्रभावी अपशिष्ट प्रबंधन, जल संचयन और हरित ऊर्जा को बढ़ावा देने जैसे कार्यक्रमों को लागू करके हमारे भौतिक और सामाजिक पर्यावरण की रक्षा करने की हमारी जिम्मेदारी को स्पष्ट करता है।

निरीक्षण के लिए विश्वविद्यालय का दौरा करने वाली एमजीएनसीआरई, भारत सरकार की टीम ने डॉ आबिद हुसैन, सहायक प्रोफेसर, मनोविज्ञान विभाग, जामिया और नोडल अधिकारी, स्वच्छ भारत मिशन को संबोधित करते हुए अपने प्रशंसा पत्र में लिखा है कि उन्हें जामिया का दौरा करने में गर्व का अनुभव हुआ है, जो एक ऐसी संस्था जो न केवल मूल्य आधारित शिक्षा प्रदान करने का प्रयास करती है बल्कि निर्णायक कार्रवाई, प्रेरक नवाचार और उल्लेखनीय दृढ़ संकल्प के लिए एक अनुकूल और संसक्त वातावरण स्थापित करने का प्रयास भी करती है; भारत के भावी अग्रदूतों को स्वच्छ मानकों के संबंध में एक परिसर सर्वोत्तम सुविधाएं प्रदान कर सकता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...