Home क्राइम शादी के बाद इंस्पेक्टर पिता ने बेटी की हत्या, नहीं बताया पत्नी और बेटे को, जला दी चिता

शादी के बाद इंस्पेक्टर पिता ने बेटी की हत्या, नहीं बताया पत्नी और बेटे को, जला दी चिता

2 second read
0
1,318

नई दिल्ली : देश में ऑनर किलिंग की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रहा हैं। जहां परिवार अपनी झूठी इज्जत के खातिर बेटियों को मौत के घाट उतार देता है। एक ऐसा ही दिल दहलाने वाला मामला हरियाणा के फरीदाबाद से सामने आया है, जिसे जानकर पूरे इलाके में सनसनी मच गई है। आपको बता दें कि यहां एक कानून को जानने वाला पिता ने अपने भाई के साथ मिलकर अपनी शादीशुदा बेटी की हत्या की, जो खुद एक सब इंस्पेक्टर के पद पर तैनात है।

दरअसल, यह मामला हरियाणा के फरीदाबाद के सीटी थाना क्षेत्र का है, जहां जीआरपी सब इंस्पेक्टर सोहनपाल ने अपने पुलिसकर्मी भाई शिवकुमार के साथ मिलकर इस खौफनाक घटना को अंजाम दिया। दोनों ने बेटी कोमल को सिर्फ इसलिए मौत के घाट उतारा कि उसने अपनी पसंद से डेढ़ महीने पहले कोर्ट मैरिज कर ली थी। जो कोमल के परिवार को नागवार था। आपको बता दें कि पुलिस ने दोनों आरोपी भाइयों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। जिस मामले में तहरीर कोमल के पति ने दी थी।

मृतका के पति सागर ने पुलिस को बताया कि वह और कोमल एक साथ ही कॉलेज में पढ़ते थे। दोनों पहले दोस्त थे, फिर एक-दूसरे से प्यार करने लगे। जिंदगीभर साथ रहने के लिए शादी करना चाहते थे, लेकिन कोमल के घरवाले इस बात को तैयार नहीं थे। जिसके बाद हमने कोर्ट मैरिज करने का फैसला किया। जज के आदेश के बाद पुलिस ने सुरक्षा मुहैया कराई।

सागर ने बताया कि पुलिस और कोर्ट के आदेश के बाद कोमल के परिवार वाले भी इस शादी के लिए तैयार हो गए। बोले-हमें इस रिश्ते से कोई परेशानी नहीं है, जिसके बाद उन्होंने खुद 19 फरवरी को हम दोनों की सगाई कर दी और 15 मार्च को शादी करने का वादा किया। फिर कोमल को उसके परिजन अपने साथ घर ले गए। लेकिन कुछ दिन पहले कोमल ने सागर को फोन करके बताया कि उसके पिता और चाचा इस रिश्ते से खुश नहीं हैं, पुलिस के दबाव के कारण यह रिश्ता तय किया है।

12 मार्च को जब सागर के पिता उमेद सिंह ने सोहनपाल को शादी करने के लिए फोन किया तो आरोपी ने अपने किसी रिश्तेदार की मौत होने का बहाना बना दिया। कहने लगे कि कुछ दिन बाद शादी करेंगे। फिर एक दिन बाद कोमल ने सागर को कॉल करके कहा कि उसके पिता और चाचा किसी की हत्या करने की साजिश रच रहे हैं। मां और भाई घर पर नहीं हैं, मुझे बहुत डर लग रहा है, फिर दो दिन बाद सागर के पास कोमल की हत्या की खबर आ गई।

बता दें कि आरोपी सोहनपाल जीआरपी में सब इंस्पेक्टर है और वह  वर्तमान में बल्लभगढ़ जीआरपी चौकी इंचार्ज है। वहीं उसका भाई आरोपी शिवकुमार फरीदाबाद के ओल्ड थाने में तैनात है। इस मामले पर एसीपी जयवीर राठी का कहना है कि पुलिस ने पति की शिकायत पर हत्या का केस दर्ज किया है। जिसकी जांच की जा रही है और जांच में जो साक्ष्य सामने आएंगे उसी के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

आपको बता दें कि मृतका लड़की वाईएमसीए में M.Tech फाइनल ईयर में पढ़ रही थी, जबकि उसका पति सागर यादव एक निजी कंपनी में नौकरी करता है। सागर का कहना है कि दोनों ने आर्य समाज मंदिर में धार्मिक रीति रिवाज के साथ शादी की थी। इसके बाद कोमल के पिता सोहनपाल ने कोर्ट में दोनों की अरेंज मैरिज का वादा कर घर ले गए थे। लेकिन मुझे नहीं पता था कि वह उसकी हत्या करने के लिए उसे मुझसे दूर ले जा रहे हैं।

Load More In क्राइम
Comments are closed.