Home क्राइम मंदिर में पति और बच्चे के सामने महिला ने किसी और के साथ लिए फेरे, फिर पति ने…

मंदिर में पति और बच्चे के सामने महिला ने किसी और के साथ लिए फेरे, फिर पति ने…

3 second read
0
136

रिपोर्ट- पल्लवी त्रिपाठी

बिहार : शादी एक पवित्र रिश्ता है, जिनमें जोड़े सात जन्मों तक एक-दूसरे के साथ रहने का वादा करते हैं। लेकिन कलयुग में शादी दिखावा मात्र रह गयी है। ऐसा ही एक मामला बिहार के भागलपुर से सामने आया है, जो सात जन्म तो दूर, सात साल के भी नहीं टिक पाया। और महिला ने अपने पहले पति और बच्चों को लेकर किसी और से शादी रचा ली। आपको जानकर हैरानी कि इस शादी को खुद महिला के पहले पति ने करवाया। 

मामला बिहार के भागलपुर के सुल्तानगंज का है। दरअसल, सात साल पहले खगड़िया जिले की रहने वाली सपना कुमारी का विवाह सुल्तानगंज के गली नंबर पांच निवासी उत्तम मंडल से हुआ थी।

शादी के कुछ दिनों तक तो सब कुछ ठीक चलता रहा, लेकिन उसके बाद एक रिश्तेदार से ही सपना आकर्षित हो गई और दोनों के बीच प्रेम प्रसंग बढ़ चला।

दोनों के प्रेम-प्रसंग के बारे में जब पति को पता चला, तो उसने कई बार विरोध किया। लेकिन सपना नहीं मानी, बल्कि दूसरे युवक के प्रति उसका प्यार और बढ़ता ही गया। दोनों के यूं छिप-छिपकर प्रेम करने से तंग आकर पति ने आखिरकार दोनों के रिश्ते को मंजूरी दे दी। जिसके बाद महिला के पहले पति ने रिश्तेदार राजू कुमार से पत्नी की शादी सुल्तानगंज के बड़ी दुर्गा मंदिर में तय कर दी। 

फिर महिला अपने प्रेमी के साथ और युवक अपने बच्चों के साथ मंदिर पहुंच गया। हालांकि, जैसे ही लोगों को इस अनोखी शादी की भनक लगी मंदिर में लोगों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। लेकिन महिला ने अपने पति की मौजूदगी में अपने प्रेमी के साथ सात फेरे लिए। इतना ही नहीं, शादी संपन्न होने के बाद प्रेमी और पत्नी ने पहले पति का आशीर्वाद लिया। सपना के पूर्व पति उत्तम मंडल ने भी दोनों के दांपत्य जीवन की शुभकामनाएं दी। इस दौरान उसकी आंखें नम हो गई। युवक ने रोते हुए बस इतना कहा कि ‘जोड़ियां ऊपर वाले के हाथ में होती है। हम सब तो महज उसके हाथ की कठपुतली है।’

 

Load More In क्राइम
Comments are closed.