1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. एक गलती की वजह से एक शख्स को लग गई 80 हज़ार की चपत, जानिए क्या है पूरा मामला..

एक गलती की वजह से एक शख्स को लग गई 80 हज़ार की चपत, जानिए क्या है पूरा मामला..

तराखंड के देहरादून से एक और ठगी का मामला सामने आया जहां एक व्यक्ति के खाते से 36 रुपये अधिक कट गए। इस पर उसने गूगल से सर्च कर पेटीएम के टोल फ्री नंबर पर संपर्क किया, जहां साइबर ठग ने व्यक्ति को 80 हजार की चपत लगा दी।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट-पायल जोशी
उतराखंड के देहरादून से एक और ठगी का मामला सामने आया जहां एक व्यक्ति के खाते से 36 रुपये अधिक कट गए। इस पर उसने गूगल से सर्च कर पेटीएम के टोल फ्री नंबर पर संपर्क किया, जहां साइबर ठग ने व्यक्ति को 80 हजार की चपत लगा दी।
दरअसल ये पूरा मामला पीड़ित टर्नर रोड निवासी अनिल कुमार का है जहां उसने क्लेमेनटाउन थाना में शिकायत दर्ज करवाते हुए कहा कि उन्होंने बीते 23 नवंबर को आइआरसीटीसी की वेबसाइट से ट्रेन का टिकट बुक करवाया था।

टिकट बुक करवाने पर उनके खाते से 3365 की जगह 3401 रुपये कट गए। इस पर उन्होंने आइआरसीटीसी के टोल फ्री नंबर पर फोन किया। उन्हें बताया गया कि रुपये पेटीएम से निकले हैं, इसलिए वहीं संपर्क करें। इसके बाद उन्होंने गूगल से पेटीएम का टोल फ्री नंबर ढूंढा और फोन किया। इस पर अज्ञात व्यक्ति ने उन्हें एनी डेस्क रिमोर्ट एप डाउनलोड करवाया, जिस पर एक पिन नंबर जनरेट हुआ। ठग ने पिन नंबर पता करते हुए कार्ड संबंधी जानकारी ली और खाते से 80 हजार रुपये उड़ा दिए।
पीड़ित ने इस बात की जानकारी पुलिस में दी जिसके चलते पुलिस ने उस साइबर ठगी के उपर मुकदमा दर्ज कर दिया है।
साइबर ठगी का एक ऐसा ही दूसरा मामला सामने आया है जहां चुक्खूवाला मोहल्ला निवासी सुरेश कुमार ने बताया कि वह फूलों का बिजनेस करते हैं। नवंबर माह में उन्हें वाट्सएप पर एक व्यक्ति का फोन आया कि वह बेंगलुरु से बोल रहा है और वह फूलों की सप्लाई करता है। उसने फूलों के सस्ते के रेट भी बताए।
झांसे में आकर सुरेश ने 21 नवंबर को फूलों का आर्डर कर दिया और एडवांस में 50 हजार रुपये भी दे दिए। रुपये मिलने के बाद शातिर ने अपना फोन बंद कर दिया। जब इस बात की जानकारी पुलिस में दी तो पुलिस ने तुरंत केस दर्ज कर लिया।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...