1. हिन्दी समाचार
  2. bengal
  3. कांग्रेस सांसद कैश कांड में छापेमारी जारी, नोट गिनते-गिनते कई मशीनें हुई खराब

कांग्रेस सांसद कैश कांड में छापेमारी जारी, नोट गिनते-गिनते कई मशीनें हुई खराब

कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज साहू के ठिकानों से इनकम टैक्स विभाग को नोटों का भंडार मिला है। बताया जा रहा है कि आईटी के अधिकारियों ने छापेमारी के दौरान अबतक 220 करोड़ से ज्यादा कैश जब्त किया है वहीं तीसरे दिन भी जगह-जगह धीरज साहू और उनके रिश्तेदारों के ठिकानों पर छापेमारी जारी है। छापेमारी में मिले नोटों का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि कैश गिनते-गिनते कई मशीने खराब हो गई।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्लीः कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज साहू के ठिकानों से इनकम टैक्स विभाग को नोटों का भंडार मिला है। बताया जा रहा है कि आईटी के अधिकारियों ने छापेमारी के दौरान अबतक 220 करोड़ से ज्यादा कैश जब्त किया है वहीं तीसरे दिन भी जगह-जगह धीरज साहू और उनके रिश्तेदारों के ठिकानों पर छापेमारी जारी है। छापेमारी में मिले नोटों का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि कैश गिनते-गिनते कई मशीने खराब हो गई। छापेमार टीम द्वारा इन नोटों की भारी संख्या को देखते हुए सैकड़ों बैगों में भरकर ट्रक से लाया गया। जब बैग कम पड़ गए तो नोटों के बंडलों को बोरों में भी भरकर रखा गया। अनुमान लगाया जा रहा है कि अभी चल रही छापेमारी और ज्यादा नोट मिल सकते हैं और इनको गिनने में एक या दो दिन और लग सकते हैं।

बता दें कि 40 सदस्यों वाली आईटी की टीम झारखंड, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के कई ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। इस दौरान ओडिशा में बौध डिस्टिलरी प्राइवेट लिमिटेड के ठिकानों पर भी छापेमारी की गई। यह कंपनी कांग्रेस सांसद धीरज साहू के परिवार की बताई जा रही है। इनकम टैक्स की टीम ने बुधवार को ही ओडिशा के बौध, बोलांगीर और संबलपुर, झारखंड के रांची-लोहरदगा और कोलकाता में एक साथ छापेमारी शुरू की थी और इन जगहों पर हुई छापेमारी के दौरान ही यह कैश जब्त किया है। वहीं छापे के दौरान छापेमार टीम ने कंपनी के कई खातों को भी फ्रीज किया। जिनसे फिलहाल कोई लेन-देन नहीं हो पाएगा। आईटी की टीम को छापे के दौरान नोटों की गड्डियों से भरी करीब 10 अलमारियां मिलीं। ये अलमारियां 500, 200 और 100 रुपए के नोटों से भरी हुई थीं। छापे के दौरान जब्त इन नोटों की गिनती में बैंककर्मियों के साथ-साथ आकर विभाग के तीस से ज्यादा कर्मचारी भी जुटे हैं। नोट गिनने के लिए 8 से ज्यादा मशीनों का इस्तेमाल किया गया, जिसमें कई मशीनें खराब हो गई।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...