1. हिन्दी समाचार
  2. विचार पेज

विचार पेज

केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी पहुंचे सूरत लिया”हुनर हाट” का जायजा

केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी पहुंचे सूरत लिया”हुनर हाट” का जायजा

रिपोर्ट: धीरज मिश्रा सूरत (गुजरात), 11 दिसंबर, 2021: “हुनर हाट”, देश के स्वदेशी दस्तकारों, शिल्पकारों, कारीगरों के “सम्मान के साथ सशक्तिकरण” और भारतीय कला और कारीगरी को “ताकत और तरक्की” का “सफल-सशक्त संकल्प” है।   वनिता विश्राम परिसर, सूरत (गुजरात) में 11 से 20 दिसंबर, 2021 तक आयोजित 34वें “हुनर

बढ़ता बहुसंख्यकवाद, मानवाधिकारों के लिए असुरक्षित!!: मो. राशिद अल्वी, युवाछात्र व सोशलएक्टिविस्ट

बढ़ता बहुसंख्यकवाद, मानवाधिकारों के लिए असुरक्षित!!: मो. राशिद अल्वी, युवाछात्र व सोशलएक्टिविस्ट

मो. राशिद अल्वी (युवाछात्र व सोशलएक्टिविस्ट) भारत में बढ़ता बहुसंख्यकवाद, जिसमें झलकती फासीवाद और नाजीवाद विचारधारा और कुचले जाते अल्पसंख्यको के मानवाधिकार। भारत में बढ़ते इस बहुसंख्यकवाद से देश में उत्पन्न होती एक घृणित सोंच और इस सोंच से बढ़ती कट्टरता और खोती इंसानियत देश की खुशनुमा तहज़ीब को अंधकार

जनरल शाहनवाज़ खान को ख़िराज ए अक़ीदत पेश किया गया

जनरल शाहनवाज़ खान को ख़िराज ए अक़ीदत पेश किया गया

  मुमताज़ आलम रिज़वी नई दिल्ली :फ़िरंगी सरकार में लालक़िला पर देश का झंडा फ़हराने वाले स्वतंत्रा सेनानी जनरल शाहनवाज़ खान को आज उनकी पुण्यतिथि पर कई अहम शख्सियात ने उनकी क़ब्र पर फूलों की चादर चढ़ाकर फ़ातिहा ख़्वानी की। इस मौके पर देश के पहले चीफ़ ऑफ़ डिफेंस स्टॉफ़

गुरुग्राम नहीं पूरे देश में नफ़रत फैलाने की राजनीति चल रही है: मोहम्मद अदीब

गुरुग्राम नहीं पूरे देश में नफ़रत फैलाने की राजनीति चल रही है: मोहम्मद अदीब

मुमताज़ आलम रिज़वी नई दिल्ली:गुरुग्राम हरियाणा में जुमा की नमाज़ को लेकर जो कई महीने से हंगामा चल रहा है वो थमने का नाम नहीं ले रहा है। हालांकि सरकार और प्रशासन से मंज़ूरी के बाद और मस्जिद न होने के कारण मुसलमान खुले में नमाज़ पढ़ने के लिए मजबूर

मदरसों की महत्ता और नई चुनौतियों से तालमेल बैठाने की चुनौती

मदरसों की महत्ता और नई चुनौतियों से तालमेल बैठाने की चुनौती

  अब्दुल माजिद निज़ामी  नई दिल्ली: भारत के इस्लामिक मदरसों ने बीते वर्षों में अच्छे समाज के निर्माण और इस्लामिक चिंतन के प्रचार-प्रसार में जो रोल निभाया है, वह अपनी जगह बेमिसाल है। पश्चिम के पुनजागरण काल का जब प्रारंभ नहीं हुआ था तब तक यही वह संस्था और शिक्षा-व्यवस्था

LOCKDOWN 2.0  की परेशानी हुई खत्म! अब घर बैठे अपनायें ये 5 तरीका, हो जाएंगे मालामाल…

LOCKDOWN 2.0 की परेशानी हुई खत्म! अब घर बैठे अपनायें ये 5 तरीका, हो जाएंगे मालामाल…

नई दिल्ली: कोरोना की दूसरी लहर ने देशभर में सभी को हैरान कर दिया है। आए दिन लाखों की संख्या में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा देखने को मिल रहा है। कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए कई राज्यों में वीकेंड लॉकडाउन, नाईट कर्फ्यू आदि को लागू कर दिया है,

इतिहास की सबसे खतरनाक महारानी,जो नहाती थी कुंवारी लड़कियों के खून से

इतिहास की सबसे खतरनाक महारानी,जो नहाती थी कुंवारी लड़कियों के खून से

रिपोर्ट: गीतांजली लोहनी नई दिल्ली:  ‘सीरियल किलर’…ये शब्द जब आता है तो विलेन का किरदार निभाने वाले एक कलाकार की छवी सामने आ जाती है। जिन्होंने पर्दें पर अपने अभिनय से सिलसिलेवार ढंग से कई हत्याएं की। लेकिन इतिहास के पन्नों को पलट के अगर देखा जाए तो असल जिंदगी

दांव पर लगी सोशल मीडिया की विश्वसनीयता को सरकार ने किया खत्म

दांव पर लगी सोशल मीडिया की विश्वसनीयता को सरकार ने किया खत्म

सतीश सिंह सोशल मीडिया की विश्वसनीयता दाव पर थी। मोबाइल और इंटरनेट की दुनिया ने हमारी जीवन शैली को बदल कर रख दिया है। आज हम सब तरफ से घिरे हुए हैं। सोशल साइट्स ने हमें एक तरह से अपने वश में कर लिया है। मोदी सरकार ने अब इसे

जानिए क्यो मनाई जाती है लोहड़ी पर्व

जानिए क्यो मनाई जाती है लोहड़ी पर्व

लोहड़ी का पर्व पौष के अंतिम दिन यानि माघ संक्रांति से एक दिन पहले मनाया जाता है। लोहड़ी’का अर्थ ल (लकड़ी) +ओह (गोहा = सूखे उपले) +ड़ी (रेवड़ी) = लोहड़ी होता है। ये फसलों का त्योहार कहा जाता है। क्योंकि इस दिन पहली फसल कटकर तैयार होती है, जिसके लिए

समाज को कैसे अच्छा और बेहतर किया जाए इसके लिए गुरुनानक जी ने संदेश दिया था, पढ़ें

समाज को कैसे अच्छा और बेहतर किया जाए इसके लिए गुरुनानक जी ने संदेश दिया था, पढ़ें

हर वर्ष कार्तिक मास की पूर्णिमा तिथि को गुरुनानक जयंती मनाई जाती है। इस वर्ष गुरुनानक जयंती 30 नवंबर को मनाई जाएगी। सिखों के लिए यह पर्व बहुत ही महत्व रखता है। गुरु नानक देव जी सिख धर्म के संस्थापक और सिखों के पहले गुरु है। गुरुनानक देव जी बालपन

समाज को अच्छा करने से पहले खुद को अच्छा बनाना होगा, इसी से होगा देश का विकास

समाज को अच्छा करने से पहले खुद को अच्छा बनाना होगा, इसी से होगा देश का विकास

किसी भी समाज को अगर अच्छा बनाना है तो सबसे पहले हर व्यक्ति को अच्छा बनना होगा। यही एक अच्छे समाज की नींव हो सकती है। किसी और की बुराई को देखना और उसी को हाईलाइट करके उसे बदनाम करने वाले लोग कभी भी अच्छा समाज नहीं बना सकते है।

किसी ज्ञानी से कुछ सीखना हो खुद बुद्धिमान बने, इससे नहीं होगा कोई नुकसान

किसी ज्ञानी से कुछ सीखना हो खुद बुद्धिमान बने, इससे नहीं होगा कोई नुकसान

आज के समय में कुछ युवाओं की शिकायत रहती है की अमुक व्यक्ति से उन्हें ज्ञान प्राप्त नहीं हुआ या अमुक व्यक्ति ने उन्हें ज्ञान देने की चेष्टा नहीं की लेकिन वो इस बात को भूल जाते है की क्या वो उस ज्ञान को पाने के लायक थे ? महाभारत

एक बुरे इंसान का साथ आपके अच्छे कामों को भी बिगाड़ सकता है – समझिए कैसे

एक बुरे इंसान का साथ आपके अच्छे कामों को भी बिगाड़ सकता है – समझिए कैसे

जीवन में कई बार हमारे साथ ऐसा होता है की हम अच्छा करने की सोच रहे होते है और एक इंसान आकर हमारे सारे अच्छे को बुरे में बदल देता है ,रामायण का एक ऐसा प्रसंग है जिससे हम ये सीख सकते है की हमे कैसे लोगों का संग करना

रामायण का प्रेरक प्रसंग ! हनुमान जी ने एक संकेत से लगा लिया था राम लक्ष्मण का पता

रामायण का प्रेरक प्रसंग ! हनुमान जी ने एक संकेत से लगा लिया था राम लक्ष्मण का पता

रामायण एक ऐसा ग्रन्थ है जिससे हमें बहुत कुछ सीखने को मिलता है। जीवन की कई समस्या ऐसी है जो इस ग्रंथ को समझने मात्र से दूर हो जाती है। जीवन में कई बार हम लोग सफलता के लिए यत्न करते है लेकिन आस पास के संकेतों और छोटी छोटी

उठो, जागो और लक्ष्य प्राप्ति तक रुको मत ! इसी में है जीवन का सार, पढ़े

उठो, जागो और लक्ष्य प्राप्ति तक रुको मत ! इसी में है जीवन का सार, पढ़े

आपने स्वामी विवेकानंद की ये पंक्तियां तो सुनी ही होगी की उठो, जागो और लक्ष्य प्राप्ति तक रुकना नहीं। जीवन के मायनों में देखा जाए तो यह सटीक भी बैठती है। दरअसल जीवन में ऐसे कई लोग होते है जो अपने लिए लक्ष्य तो बड़ा रखते है लेकिन कई बार

1 2 3 16